dwa

dwa

दिल्ली के कथित कृष्ण अवतार बाबा वीरेंद्र देव दिक्षित के द्वारका स्थित आश्रम में छापे के दौरान शुक्रवार को पांच नाबालिग समेत 21 लड़कियो को पुलिस ने रिहा कराया है. जिनमे से 6 लड़कियां मानसिक तौर पर बीमार हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, दिल्ली महिला आयोग और चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की टीम ने पुलिस के साथ छापेमारी कर लड़कियों को रिहा करवाया. इस दौरान पुलिस ने कई आपत्तिजनक चीजे जब्त की. जिनमे प्रतिबंधित दवाइयां और अश्लील किताबें शामिल है.

इस आश्रम में बाबा ने खुद को शिव का अवतार बताया हुआ था. आश्रम में बाबा ने सृष्टि चक्र लगा रखा है. इसमे बताया गया है कि भगवान शिव भारत मे अवतरित होकर स्वर्ग की स्थापना कर रहे हैं.

आश्रम के मकान मालिक गुरुमूर्ति ने बताया कि बाबा लोगो को बताते है कि अपना तन मन धन सब अर्पित करो. उनका मानना है कि लड़कियों की शादी हो जाने से वह अपवित्र हो जाती हैं. यहाँ ईश्वर को पाने के लिए अपनी पवित्रता दान करनी है.

पुलिस ने आश्रम को सील कर दिया है. यहां बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है. आयोग की एक टीम अब लड़कियों की काउंसलिंग कर रही है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?