Sunday, August 1, 2021

 

 

 

तमिलनाडु: सीएए को लेकर किया श्रीलंकाई शरणार्थियों का इंटरव्यू, दो पत्रकारों पर केस दर्ज

- Advertisement -
- Advertisement -

सीएए-एनआरसी मुद्दे पर श्रीलंकाई शरणार्थियों का साक्षात्कार लेना दो पत्रकारों को महंगा साबित हुआ है। पुलिस ने दोनों पत्रकारों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक, विकाटन ग्रुप के एक रिपोर्टर और एक फोटो जर्नलिस्ट के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188, 447 और 505-1b के तहत मामला दर्ज किया गया है।

नागरिकता कानून के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच तमिलनाडु में श्रीलंका से आए तमिल शरणार्थियों का मुद्दा प्रमुखता से उठ रहा है। कई विपक्षी पार्टियों की मांग है कि इस कानून के अंतर्गत श्रीलंकाई तमिलों को भी शामिल किया जाए।

एफआईआर में लिखा है कि ये दोनों एक शरणार्थी शिविर में आए थे और ‘शरणार्थियों को सीएए के खिलाफ विरोध करने के लिए उकसाया।’ इनके खिलाफ गैर-जमानती धारा के तहत मामला दर्ज किया गया है और पुलिस इन्हें ढूंढने की कोशिश कर रही है।

इस मामले पर डीएमके सांसद कनिमोझी का कहना है, ‘लोकतंत्र में प्रेस पर इस तरह के हमलों की कड़ी निंदा होनी चाहिए। मीडियाकर्मियों के खिलाफ दायर मामलों को तुरंत वापस लिया जाए।’

कमल हासन की पार्टी मक्कल निधि मय्यम ने भी राज्य सरकार की इस कार्रवाई की निंदा की है। उनका कहना है कि गैर जमानती धाराओं को हटाया जाना चाहिए। इस मामले को लेकर कई पत्रकारों ने राज्य के पुलिस चीफ से मुलाकात की और कहा है कि उनके सहकर्मियों के खिलाफ दायर मामलों को तुरंत वापस लिया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles