image credit: indiatoday
image credit: indiatoday

तेलंगाना के निजामाबाद में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर एक सरकारी कॉलेज के मुस्लिम प्रिंसिपल को झंडा फहराने से रोकने के मामले में पुलिस ने 16 लोगों को गिरफ्तार किया है. ये सभी ABVP और आरएसएस से जुड़े हुए है.

निज़ामाबाद के सरकारी कॉलेज के प्रिंसिपल मोहम्मद यकीन का आरोप है की स्वतंत्रता दिवस के मौके पर वो जैसे ही ध्वजारोहण करने के लिए उठे तो ABVP और आरएसएस कार्यकर्ताओ ने उनके खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी. इस दौरान उनके साथ धक्का-मुक्की भी की गई.

अरमूर ग्रामीण पुलिस निरीक्षक नरसिम्हा स्वामी ने बताया कि प्राचार्य ने कल हमारे यहां शिकायत दर्ज कराई है. हमने 16 लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया है. उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था और बाद में जमानत पर छोड़ दिया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ कार्यकर्ताओ का कहना है कि वे यकीन के जूते पहनकर ध्वजारोहण करने से नाराज थे. वो लगातार उनसे जूते उतारने की मांग कर रहे थे. जब यकीन ने ऐसा करने से मना कर दिया तो उन्होंने उनके खिलाफ नारेबाजी करते हुए धक्का मुक्की की.

इस पर एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन औवेसी ने ट्वीट किया कि भाजपा के हर मुख्यमंत्री ने जूते पहने हुए थे, क्या वे उनके खिलाफ प्रदर्शन करेंगे और उनपर हमला करेंगे.

Loading...