dix

dix

दिल्ली के कथित कृष्ण अवतार बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के राजस्थान के माउंट आबू में स्थित आश्रम से 132 लड़कियों को आजाद कराया गया है.

गुरुवार को राजस्थान राज्य बाल आयोग टीम ने छापा मार कर माउंट आबू आश्रम में 60 और आबूरोड आश्रम में 72 लड़कियों को मुक्त कराया. राज्य बाल आयोग की सदस्य उमा रत्नू के अनुसार सभी लडकियों की उम्र 18 साल से कम है. इन सभी को गैरक़ानूनी तौर पर रखा गया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उमा रत्नु ने बताया, इन लड़कियों को जेलनुमा आश्रम में रखा गया है. इनमें से अधिकांश लड़कियां आदिवासी हैं. आश्रम का रजिस्ट्रेशन नहीं होने की बात भी सामने आई है. टीम के साथ आश्रम में गए पुलिस अधिकारियों ने मौके से कुछ दस्तावेज जुटाए हैं. हालांकि लड़कियों का कहना है कि उनके साथ कुछ गलत नहीं हुआ है.

ध्यान रहे दिल्ली के उत्तरी इलाके रोहिणी में स्थित आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में चल रहे सेक्स रेकेट के खुलासे के बाद देश भर में दीक्षित के आश्रमों पर कार्रवाही की जा रही है. आश्रम से छुड़ाई गई पीड़िताओं के अनुसार, बाबा मोक्ष दिलाने के नाम पर उनसे बलात्कार करता था.

पीड़ित लड़कियों का कहना है कि आरोपी बाबा भगवान कृष्ण की तरह 16 हजार पत्नियां बनाना चाहता था. वह आश्रम में रहने वाली लड़कियों के मुताबिक आरोपी बाबा रोजाना 10 लड़कियों का रेप करता था. साथ ही लड़की के पहले मासिक धर्म के आने के साथ ही उनका बलात्कार करता था.