भोपाल की सेंट्रल जेल में कैद कथित सिमी सदस्य अबू फैजल ने जेल से भागने की कोशिश में अपना पैर फ्रैक्चर कर लिया है. जेल प्रशासन ने अब उसकी सेल के बाहर पहरा और सख्त कर दिया है.

जेल अधीक्षक दिनेश नरगावे का कहना है कि जेल में बंद सिमी आतंकी पहले की तरह सुविधाओं की मांग करते हुए नारेबाजी करते हैं. अब सिमी आतंकियों पर कड़ा पहरा है और उन्हें जेल मैनुअल के हिसाब से खाना-पीना और सुविधाएं दी जा रही हैं. अबु फैजल ने जेल प्रशासन पर दबाव बनाने के लिए ही सीखचों में पैर फंसाकर तोड़ लिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हालाँकि जेल में बंद सिमी से रिश्ते रखने के आरोप में बंद युवको के परिजनों का कहना है कि जेल प्रशसन उनके साथ मारपीट कर रहा है और उन्हें एनकाउंटर की भी धमकियाँ दी जा रही है. परिजनों ने इस मामलें में सुप्रीम कोर्ट से भी संज्ञान लेने की अपील की है.

गौरतलब है कि पिछले साल एमपी पुलिस ने कथित मुठभेड़ में जेल से भागने के आरोप में सभी सिमी आरोपियों को मार गिराया था. हालांकि परिजनों ने इस फर्जी मुठभेड़ करार दिया था.

Loading...