15 अगस्त पर मुख्य अतिथि के रूप में मौहल्ला सतूने संग स्थित डायमंड पब्लिक स्कूल पर पहुंचे फैसल लाला ने स्कूल में किया ध्वजारोहण बाद में कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के कैम्प कार्यालय पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।

विचार गोष्ठी का आरम्भ राष्ट्रगान से हुआ फैसल लाला ने कहा आज़ादी के 70 साल बाद भी जातिवाद, ऊंच-नीच, भ्रष्टाचार और ऐसे नेता जो अपनी नफरत भरी सोच से न सिर्फ समाज को बांटना चाहते है बल्कि देश को तोड़ना चाहते हैं उनसे आज भी आज़ादी की ज़रूरत है।

आज़ादी से पहले हिंदुस्तान सोने की चिड़िया कहलाता था लेकिन अंग्रेज़ो ने जाते-जाते हिंदुस्तान को पूरी तरह से लूट लिया जिससे हिंदुस्तान आर्थिक रूप से कंगाल हो गया और अंग्रेज़ो ने लोगो के बीच नफ़रत की एक ऐसी दीवार खड़ी कर दी जिससे हिंदुस्तान का बंटवारा हुआ और पाकिस्तान वजूद में आ गया, आज भी देश के अंदर कुछ ऐसे नेता मौजूद हैं जो सत्ता आने पर ठीक उसी तरह लोगो पर ज़ुल्म करते हैं जिस तरह अंग्रेज़ किया करते थे उनके ज़ुल्म को रामपुर के लोगो से ज़्यादा और कौन जान सकता है ऐसे नेताओं से सतर्क रहने की ज़रुरत है।

Loading...