प्रतिभा – बिना रणजी खेले ही आवेश खान का हुआ इंडियन टीम में चयन

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने मंगलवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली तीन मैचों की टी-20 सीरीज के लिए 16 सदस्यीय भारतीय टीम की घोषणा की। टी-20 सीरीज से जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी जैसे सीनियर तेज गेंदबाजों को आराम दिया गया है और उनकी जगह आवेश खान और हर्षल पटेल जैसे युवा गेंदबाजों को मौका मिला है। टीम में चुने जाने से खुश आवेश खान ने बुधवार को कहा कि देश के लिए खेलने का उनका सपना आख़िरकार पूरा हो गया है।

अलग-अलग प्रतियोगिताओं में खेलकर तीन महीने बाद बुधवार सुबह ही इंदौर लौटे खान के घर उनके रिश्तेदारों, परिचितों और प्रशंसकों का तांता लग गया है जो उन्हें भारतीय टीम में चुने जाने की बधाई दे रहे हैं। इस दौरान उनके परिजन, आगंतुकों को मिठाई खिलाकर और आतिशबाजी कर खुशियां मनाते देखे गए।

जश्न के बीच खान ने ‘पीटीआई’ से कहा, ”हर क्रिकेटर का सपना होता है कि वह अपने देश के लिए खेले और वह इसी सपने को हकीकत में बदलने के लिए मेहनत करता है। मेरा यह सपना अब पूरा हो गया है।” खान ने कहा कि पिछली घरेलू टूर्नामेंट्स और आईपीएल में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया था, जिससे उन्हें भारतीय टीम में जगह बनाने में मदद मिली।

तेज गेंदबाज के पिता आशिक खान याद करते हैं कि उनके बेटे के सपनों को कैसे पंख लगे। उन्होंने बताया, ”मेरा बेटा पहले इंदौर कोल्ट्स क्रिकेट क्लब से जुड़ा। फिर अमय खुरासिया ने उसके हुनर को पहचानते हुए अपनी क्रिकेट अकैडमी में ट्रेनिंग के लिए उसे चुना। इसके बाद उसने पीछे मुड़कर नहीं देखा।”

विज्ञापन