Sunday, June 13, 2021

 

 

 

उत्तर प्रदेश में उडी ‘बेटी बचाओ बेटी पढाओ’ अभियान में दो लाख मिलने की अफवाह, डाक घरो के बाहर भारी भीड़ , जानिए सच्चाई…

- Advertisement -
- Advertisement -

शामली | जैसे जैसे उत्तर प्रदेश में चुनाव नजदीक आ रहे है वैसे वैसे नयी नयी अफवाहे भी खूब उड़ने लगी है. उत्तर प्रदेश के शामली और मुजफ्फरनगर में आजकल डाक घरो के आगे लम्बी लम्बी कतारे दिख रही है. आप सोच रहे होंगे की नोट बंदी की वजह से लोग कतार में खड़े होंगे, लेकिन आप गलत सोच रहे है. आजकल यहाँ एक अफवाह ने लोगो को डाक घरो के सामने खड़ा होने पर मजबूर कर दिया है.

दरअसल इन जिलो के हर गाँव और कस्बो में एलान किये जा रहे है की मोदी सरकार ने ‘बेटी बचाओ बेटी पढाओ ‘ योजना के तहत हर उस लड़की के खाते में 2 लाख रूपए डालने का फैसला किया है जो 8 साल से 32 साल के बीच हो और जो किसी स्कूल में पढ़ाई कर रही हो. इसके लिए हर गाँव में फॉर्म पहुंचाए जा रहे है. एक फॉर्म की कीमत 10 रूपए रखी गयी है. बताया जा रहा है की ये फॉर्म जिले से हर गाँव और कसबे में भेजे जा रहे है.

फॉर्म में लिखा हुआ है की लड़की के सभी कागजात संलग्न कर नजदीक के डाकघरो में जमा कराये. जैसे ही 2 लाख रूपए मिलने की खबर को लोगो ने हाथो हाथ लिया. शामली और मुजफ्फरनगर के कई इलाको से खबर मिली है की जिले के सभी डाकघरो के आग लम्बी लम्बी लाइन लगी हुई है. हालाँकि डाक घर वाले ऐसी किसी योजना के होने से मना कर रहे है लेकिन लोग मानने के लिए तैयार ही नही है.

उधर जिले के डीएम् और एसडीएम् की तरफ से भी लोगो को बताया गया की यह मात्र अफवाह है लेकिन कोई मानने के लिए ही तैयार नही है. जब इस मामले की हमने पड़ताल की तो हमें चाइल्ड एंड वेलफेयर मंत्रालय की वेबसाइट पर एक नोटिस मिला. जिसमे साफ़ साफ़ लिखा हुआ है की यह योजना किसी भी खाते में नकदी क्रेडिट करने के लिए नही है. अगर ऐसे कोई अफवाह फैला रहा है तो उसके खिलाफ नजदीकी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराये.

इसके अलावा नोटिस में मुजफ्फरनगर और मेरठ जिले का नाम लेते हुए बताया गया है की इन जिलो के डीएम् ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है क्योकि यहाँ इस तरह के फॉर्म वितरित करने की खबरे आ रही है. चुनाव से ठीक पहले इस तरह की अफवाह उड़ने से मामला संदिग्ध नजर आता है. आखिर कोई क्यों इस तरह की अफवाह उडाएगा? इस अफवाह से किस पार्टी को सबसे ज्यादा फायदा हो सकता है? यह जांच का विषय है? हम सरकार से अपील करेंगे की वो एक प्रेस कांफ्रेंस कर , इस बारे में स्थिति स्पष्ट करे.

और जानकारी के लिए आप चाइल्ड एंड वेलफेयर मंत्रालय की वेबसाइट पर जाकर पूरी जानकारी ले सकते है. वेबसाइट पर जाने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे. wcd.nic.in/BBBPScheme/main.htm

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles