Saturday, June 25, 2022

राफेल, मोदी और अकबर-बीरबल

- Advertisement -

अकबर बीरबल की एक कहानी मशहूर है. एक सेठ के घर चोरी हुई और वो बरबाद हो गया. परेशान सेठ अकबर के दरबार में पहुंचा. जब सब नाकाम हो गए तो चोर को पकड़ने की ज़िम्मेदारी अकबर ने बीरबल को दी. सेठ को शक था कि तिजोरी खोलकर जेवरात चुराने का काम उसके ही किसी नौकर का है.

बीरबल ने सभी नौकरों को दरबार में बुलाया और सभी को एक एक डंडा दिया और बताया कि ये जादुई डंडा है और जिसने भी चोरी की होगी रात में डंडा चार अंगुल अपने आप बढ़ जाएगा. साथ ही हिदायत दी कि अगले दिन सभी को अपने अपने डंडों के साथ दरबार में दोबारा आना है.

सभी नौकर अपना अपना डंडा लेकर अपने अपने घर चले गये. जिस नौकर ने सेठ के तकिये के नीचे से चाभी चुराकर तिजोरी साफ की थी उसे रात भर नींद नहीं आई. बार बार वो अपना डंडा नापता रहा और घबराता भी रहा कि जादुई डंडा अगर बढ़ गया तो उसकी चोरी पकड़ी जाएगी.

फिर उसके दिमाग में एक युक्ति आई – कि क्यों न डंडे को चार अंगुल काट दिया जाये ताकि वो जादू से बढ़ भी जाये तो बाकी डंडों के बराबर ही होगा.

जैसा तय था अगले दिन सभी नौकर अपना अपना डंडा लेकर दरबार में हाजिर हुये. सबके डंडे नापे गये और उनमें एक डंडा चार अंगुल छोटा निकला. डंडा जादुई नहीं था और चोर ने अपना डंडा छोटा कर के अपने आप को पकड़वा दिया था.

राफेल पर भी यही हो रहा है. सीबीआई डायरेक्टर को हटा कर, संसद, मीडिया और सुप्रीम कोर्ट में जहाज की कीमत न बता कर मोदी लगातार अपना डंडा चार अंगुल छोटा करने में लगे हैं. सेठ के नौकर ने तो रात के अंधेरे में छुप कर डंडा छोटा किया था मोदी ये काम दिन दहाड़े सबके सामने कर रहे हैं.

प्रशांत टंडन की फेसबुक वॉल से…

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles