विश्व आज एक अभूतपूर्व संकट ‘कोविद-19’ की मार से गुज़र रहा है I अब तक के आंकडे बताते हैं कि इस महामारी ने विश्व के लगभग सभी देशों में अपने पैर पसार दिए है I इससे संक्रमित और मरने वालों की संख्या दिन पर दिन बढती ही जा रही है I

ताजा आंकड़ों के अनुसार कोविद-19 से अब तक 211000 लोगों की मौत और संक्रमित लोगों की संख्या 3.04 मिलियन से भी अधिक है I डॉक्टर और विशेषज्ञों का मानना है की चूँकि यह एक विषाणु संक्रमण है, जिसकी रोकथाम वैक्सीन या सामाजिक दूरी बनाकर ही संभव है I इससे निपटने के लिए मुस्लिम समाज भी आगे बढ़कर अपनी सहभागिता दे रहा है I

दुनिया भर की मस्जिदों ने अपने दरवाजें नमाज़ और तरावीह के लिए बंद कर दिए हैं और समस्त मुस्लिम समाज को सलाह दी है कि वे घर में रहकर ही नमाज़ पढ़ें ताकि सामजिक दूरी का सिद्धांत अपनाया जा सके I यहाँ तक कि पैगम्बर की हदीस भी इस विषय में काफी स्पष्ट है : “पूरी पृथ्वी को मस्जिद बना दिया गया है, कब्रिस्तान और वाशरूम को छोड़कर”  तिर्मिधि (अल-सलाह, 291), “जो लोग अपनी और दूसरों की सुरक्षा के लिए घर पर रहते हैं, वे अल्लाह के संरक्षण में हैं” मुसनद अहमद. सालेह

बता दें की कुछ असंतुष्ट उपासकों को छोड़कर मलेशिया से सऊदी अरब और ब्रिटेन से मोरक्को के सभी मुस्लिम समुदायों ने मस्जिदों में प्रवेश पर रोक लगा दी हैI बुखारी (6771) और मुस्लिम (2221) के अनुसार भी “संक्रामक रोगों से ग्रस्त लोगों को स्वस्थ रहने वालों से दूर रखना चाहिए”I इन्ही इस्लामिक मार्गदर्शन और चिकित्सा विशेषज्ञों की बात मानते हुए दुनिया भर के मुस्लिम, मस्जिदों की सभाओं में शामिल नहीं होने वाले सामाजिक मानदंड को अपनाने की कोशिश कर रहे हैं I

पूरी दुनिया के मुस्लिम संगठनो ने भी सामने आकर विशेषज्ञों और स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा तैयार दिशानिर्देशों का पालन करने की सलाह दी है क्योंकि कोरोना वायरस से निपटने के लिए सामाजिक दूरी, क्वारनटाइन और स्वच्छता का अभ्यास ज़रूरी है I हदीस बताता है : ”छींकते समय पैगम्बर अपने चहरे को अपने हाथ से या अपने वस्त्र से ढक लेगा” अबू दाऊद; तिर्मिधि (पुस्तक 43, हदीस 2969) “पैगम्बर ने कहा : स्वच्छता विश्वास का आधा हिस्सा है” मुस्लिम (223)

इस परिस्तिथि में चाहिए की हम समस्त मुसलमान घर में ही रहकर नमाज़ पढे व सामजिक दूरी बनाकर समाज को कोरोना मुक्त रखें I

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन