मनुष्य एक सामाजिक प्राणी हैं। घर-परिवार के साथ-साथ उस पर मुआशरे की जिम्मेदारियों का भी दायित्व होता है। समाज के सभी धर्म इसकी वकालत करते हैं। इसी संदर्भ में कुरान में भी मानवीय और सामजिक गुणों को तरजीह देकर कुछ आयतें नाज़िल हुई हैं। ‘कुरआन एक झलक’ के इस दूसरे संस्करण में हम कुछ ऐसी हदीसों का ज़िक्र करेंगे जो समाज के प्रति हमारी जिम्मेदारियों पर प्रकाश डालेगा।

‘ऐ ईमान वालों ! अल्लाह तआला से डरते रहो और सच्चे लोगों के साथ रहो’ (सूर-ए-तौबा:119) अच्छी संगत और सच का साथ देकर मोमिन युवा मुआशरे से गुनाहों को हटाकर शांति और अमन कायम कर सकते हैं। कहा भी गया है कि ‘झूठ से बचो: बिलाशुबह झूट गुनाह की तरफ ले जाता है और गुनाह जहन्नुम में पहुँचाने वाला है’ (सुनून अबू दवूद- 4989 सहीह)। उसके बाद आती हैं मुआशरे की इकाइयां जैसे दोस्त, पडोसी और परिवार। उनके लिए बताया गया है कि (हे मनुष्य) तेरे पालनहार ने आदेश दिया है कि-‘उसके सिवा किसी की इबादत न करो तथा माता-पिता के साथ उपकार करो’ (कुरआन 17:23) तथा अपने आप को और अपने घर वालों को भलाई की तालीम दो (हाकिम 3826 )।

इसी संदर्भ में नबी-ए-करीम (सल्लल्लाहो अलेही वसल्लम) ने फरमाया है ‘वह शख्स मोमिन नहीं जो पेट भरकर खाए और उसका पडोसी भूखा रह जाए’ (शोएब उल इमान 5660)। इन्ही नेकियों को बढ़ने के लिए अली रज़िअल्लाहू अनहु की तफसीर में फरमाते हैं : ‘जिस शख्स ने किसी नेकी का पता बताया, उसके लिए (भी) नेकी करने वाले के जैसा अजर है’। (सहीह मुस्लिम: जी.३, हदीस 4665)। यही ख़ूबसूरती है इस्लाम की, जो न सिर्फ अपनों के लिए बल्कि दूसरों के लिए भी सेवा भाव, प्रेम और त्याग का उपदेश देता हैI

एक अहम् फ़र्ज़ हमारी खवातीनो के बारे में भी कुरआन में फरमाया गया हैं : ‘तुम लोग अपनी बीवियों को उन का मेहर खुश दिली से दे दिया करो, अलबत्ता अगर वोह अपने मेहर में से कुछ छोड़ दे, तो उसे लज़ीज़ और खुश गवार समझ कर खाओ’ (सूर-ए-निसा: 4)। और न सिर्फ खुद बल्कि खवातीनो को भी शिक्षित करो क्योंकि इल्म हासिल करना हर एक मुसलमान मर्द और औरत पर फ़र्ज़ है (सुनन्न इन्बे माजा ज़िल्द 1 हदीस 224)।

अफ़सोस की बात है कि हमने दीन का पैगाम अपने गैर मुस्लिम दोस्तों और भाइयों को नहीं बताया यही वजह है कि उन्होने इस अमन के दीन का मुआजना दहशतगर्दी से किया, अल्लाह हम सब को इखलास के साथ इस्लाम पहचानने की तौफ़ीक दे।

– अबू अशरफ, सदर, एमएसओ उत्तर प्रदेश

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन