मेरे घर में टीवी नहीं है,

आज किसी के घर गया था और सामने ज़ी टीवी लगा हुआ था,

ज़ी टीवी बाबा राम रहीम के गुणगान कर रहा है,

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वह बता रहा है कि बाबा के छह करोड़ शिष्य हैं जो उनके लिए जान दे सकते हैं,

और बाबा सुपर हीरो हैं वगैरह वगैरह,

अगर भारत मुस्लिम बहुल देश होता तो यही ज़ी टीवी बाबा के खिलाफ प्रोग्राम करता,

और किसी मौलाना के मूंह से इस बाबा को गालियाँ दिलवाता,

आजकल मोदी भक्त ज़ी टीवी देखना एक धार्मिक क्रिया मानते हैं,

यकीन मानिये अगर यह सब भक्त मुसलमान होते तो ज़ी टीवी मुसलमानों को खुश करने वाले प्रोग्राम दिखाता,

ज़ी टीवी जैसी मीडिया सत्ता के लिए चलाये जाने वाले खेल का एक हिस्सा है,

आपका मजहब भी सत्ता का एक हिस्सा है,

आपको अब यह फैसला करना है कि आप हमेशा मूर्ख बनेंगे या अक्ल से भी काम लेना चाहेंगे,

अगर अक्ल से काम लेना है तो अपने मजहब को घर से बाहर के किसी भी मामले से दूर कर दो,

जैसे ही यह करोगे आपकी सारी तकलीफें सरकार दूर करनी शुरू कर देगी,

देखो आज एक आदमी भीड़ के दम पर अदालत को धमका रहा है भारत का नाम नक़्शे से मिटा देने की धमकी दे रहा है,

भाई अगर आप मुझ पर बलात्कार का झूठा इलज़ाम लगाएं तो मैं कहूँगा कि ठीक है अदालत में साबित कर दो,

लेकिन अगर मैंने सचमुच बलात्कार किया है तो जैसे ही आप मेरी पोल खोलेंगे मैं पूरा दम लगा कर आपको चुप कराने की कोशिश करूंगा,

बाबा राम रहीम यही तो कर रहा है,

आप कब तक इन बाबा, संत, मौलवी के द्वारा चलाये जाते रहेंगे ?

आज यही सब कुछ अगर पाकिस्तान में कोई मौलाना कर रहा होता,

तो आप मुसलमानों को गालियाँ दे रहे होते और उनकी खिल्ली उड़ा रहे होते,

अब चूंकि वह बाबा मुसलमान नहीं है इसलिए आप चुप हैं,

आजादी मिलने से पहले ब्रिटेन के प्रधान मंत्री चर्चिल ने कहा था कि तुम भारतीय आपना राजकाज चला ही नहीं पाओगे,

और सच में आज देखो भारत की सेना एक बलात्कार के आरोपी धर्म गुरु के सामने कितनी लाचार बनी हुई है,

याद रखिये अगर भारत इसी रास्ते पर चलता रहा,

तो यह धार्मिक नफरत और मूर्खता इस पूरे उपमहाद्वीप को खून खराबे और युद्ध में झोंक देगी,

बीमारी भूख और बेकारी बढ़ती जायेगी और गृह युद्ध आपको घर में घुस कर मार डालेगा,

Courtesy – himanshu kumar’s facebook wall

Loading...