लखनऊ: यूपी में स्वच्छ भारत मिशन के तहत बने शौचालयों पर भगवा रंग करवा के निशाने पर आई योगी सरकार को घेरते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि टॉयलेट को भगवा रंगना धर्म का अपमान है.

अखिलेश ने सपा मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं से कहा कि भाजपा शौचालय तक को भगवा रंग में रंग कर धर्म का अपमान कर रही है. उसने शौचालय को इज्जत घर नाम देकर उसकी इज्जत पर भी रंग पोत दिया है. रंग बदलने से कुछ नहीं होने वाला. विकास का रंग ही स्थायी होता है. जनता के कल्याण का कोई काम करने के बजाय भाजपा सिर्फ लोगों का ध्यान भटकाने वाले काम करती है.

सपा नेता ने कहा, मुख्यमंत्री योगी ने कहा था कि भगवान राम भटक रहे हैं. मुझे इस बात से बहुत तकलीफ है क्योंकि मैं भी भगवान राम को मानता हूं. हम सब उन्हें पूजते हैं. भगवान के लिए ऐसी बातें बहुत ही खराब हैं.” अखिलेश ने कहा, “मैं किसी संत मुख्यमंत्री से यह उम्मीद नहीं कर सकता था कि वो कहे की भगवान राम भटक रहे हैं.”

उन्होंने कहा, “भाजपा सर्वाधिक जातिवादी पार्टी है. लेकिन हमको जातिवादी बताती है. उन्होंने कहा कि लोगों में इन लोगों ने इतना भ्रम डाल किया है कि हमको जातिवादी लिख दिया जाता है और भाजपा को टेक्निकल कह दिया जाता है.”

अखिलेश ने कहा, भाजपाई ध्यान हटाने में माहिर हैं. बुंदेलखंड में किसान धरने पर बैठा है और मुख्यमंत्री ने हिमाचल में कहा कि हमने किसानों का पूरा भुगतान कर दिया. लेकिन सब झूठ है. बीजेपी सरकार पूरी तरह फेल रही है. गरीबों की की एफआईआर तक दर्ज नहीं की जा रही है.”

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें