जाति विवाद के बाद अब योगी सरकार के मंत्री ने खुद को बताया ‘हनुमान का वंशज’

7:03 pm Published by:-Hindi News

नई दिल्ली। बीते दिनों हनुमान जाति को लेकर काफी विवाद हुआ था। अब एक फिर से चुनाव से ठीक पहले हनुमान जी फिर चर्चा में है। दरअसल, यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने खुद को भगवान हनुमान का वंशज भी बताया।

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक, राजभर ने कहा कि सपा और बसपा ने इसलिए गठबंधन कर लिया है क्योंकि वह ‘भगवान हनुमान के वशंज’ हैं और बीजेपी के साथ हैं। राजभर का दावा है कि सपा और बसपा ने ओबीसी और दलित समुदाय के लोगों को यूपी में अपने कार्यकाल के दौरान लूटा। उन्होंने कहा कि जिन्होंने लोगों को लूटने के लिए गठबंधन किया है वे गंगा में डूब जाएंगे।

अति पिछड़ा अति दलित अधिकार महासम्मेलन में बोलते हुए ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि सपा-बसपा को मालूम था कि वे अकेले चुनाव नहीं जीत सकते हैं इसलिए उन्होंने गठबंधन किया। उन्होंने कांग्रेस पर भी हमला बोला। राजभर ने खुद की तरफ इशारा करते हुए कहा, ‘जब से हनुमान के इस वंशज ने बीजेपी का समर्थन किया है, सपा और बसपा के लोग खामोश हैं।’

राजभर के मुताबिक, उन्होंने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को बताया कि कैसे ओबीसी समुदाय के लोग कुछ लोकसभा सीटों पर 38 फीसदी और कुछ सीटों पर 36 फीसदी तक हिस्सेदारी रखते हैं। यानी 36 फीसदी ओबीसी वोटों के साथ अन्य जातियों के 20 फीसदी वोट भी एनडीए को मिल जाएंगे।

मंत्री ने बताया कि वह 26 फरवरी को बीजेपी अध्यक्ष शाह के साथ मीटिंग करने के लिए दिल्ली जाएंगे। इसमें 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण को तीन सब कैटिगरी ओबीसी, पिछड़ा और अति पिछड़ा में बांटने पर चर्चा होगी।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें