लखनऊ | योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद सूबे की राजनीती करवट लेती दिख रही है. शपथ लेने के दो दिन बाद ही मुलायम सिंह की बहु और बेटे , योगी आदित्यनाथ से मिलने पहुंचे थे. तब उस मुलाकात के कुछ और मतलब निकाले जा रहे थे. हालाँकि मुलाकात के बाद मुलायम की बहु अपर्णा यादव ने मीडिया से कुछ भी कहने से मना कर दिया था.

लेकिन शुक्रवार को उस मुलाकात का पटाक्षेप हो गया. दरअसल अपर्णा यादव और उनके पति प्रतीक यादव ने योगी से मुलाकात कर उन्हें कान्हा उपवन गौशाला आने का निमंत्रण दिया था. जिसे योगी आदित्यनाथ ने स्वीकार कर लिया था. बताते चले की कान्हा उपवन गौशाला , अपर्णा यादव का एक एनजीओ संचालित करता है. योगी शुक्रवार को इस गौशाला का दौरा करेंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अब अपर्णा और प्रतीक यादव की मुलाकात और योगी का गौशाला का भ्रमण करना , उत्तर प्रदेश की राजनीती में क्या गुल खिलाने वाला है यह तो वक्त ही बतायेगा लेकिन सूबे में इसकी सुगबुगाहट काफी तेज हो गयी है. जानकार इसके अलग अलग मायने निकाल रहे है. दरअसल प्रतीक की माँ साधना गुप्ता पहले ही कह चुकी है की वो प्रतीक को राजनीती में आते हुए देखना चाहती है.

वही मुलायम परिवार में सब कुछ ठीक भी नही चल रहा है. जहाँ समाजवादी पार्टी पर अब अखिलेश का वर्चस्व कायम हो चूका है इसलिए साधना गुप्ता अपने बेटे के लिए दुसरे रास्ते तलाश सकती है. उधर अपर्णा यादव पहले भी प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ भी कर चुकी है. योगी आदित्यनाथ के दौरे को देखते हुए कान्हा उपवन गौशाला में सुरक्षा के जबरदस्त इन्तजाम किये गए है. इसके अलावा गौशाला की दीवारों पर रंग किया जा रहा है और मेंन गेट को सजाया जा रहा है.

Loading...