पाकिस्तान में लापता हुए विश्व प्रसिद्ध दरगाह ह. निजामुद्दीन दरगाह के सज्जादानशीन सकुशल भारत वापसी के बाद दक्षिणपंथी नेताओं के निशाने पर आ गये हैं.

हाल ही में भाजपा के विवादित नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दोनों खादिमों पर देश के खिलाफ काम करने का आरोप लगाया था. वहीँ अब शिवसेना ने कहा कि दोनों को पाकिस्तान नहीं जाना चाहिए था. अगर वे सच्चें भारतीय हैं तो अब दौबारा कभी पाकिस्तान नहीं जायेंगे.

उन्होंने न्यूज एंजेंसी एएनआई से कहा, “मैं हमेशा से कहता आ रहा हूं कि भारत को पाकिस्तान के साथ कोई रिश्ता नहीं रखना चाहिए। कलाकारों, क्रिकेट टीम और दूसरे लोगों को भी पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से भारत आने की इजाजत नहीं मिलनी चाहिए. यहां तक कि भारतियों को भी वहां नहीं जाना चाहिए.”

राउत ने आगे हा, “ये लोग (मौलवी) वहां गए ही क्यों जबकी उन्हें मालूम था कि दोनों देशों के रिश्ते कितने खराब हैं. अगर आप एक सच्चे भारतीय हैं तो आपके भीतर पाकिस्तान के लिए क्रोध होना चाहिए.”

याद रहे हजरत निजामुद्दीन दरगाह के सज्जादानशीन आसिफ निजामी और नाजिम निजामी लाहौर की मशहूर दाता दरबार दरगाह में जियारत के लिए गए थे. इस दौरान वे अचानक लापता हो गये. दरअसल, उन्हें RAW एजेंट समझकर आईएसआई ने हिरासत में ले लिया था.

भारत लोटकर दोनों ने बताया कि एक पाकिस्तानी अखबार “उम्मत” समेत कई पाकिस्तानी मीडिया घरानों ने उन्हें RAW का जासूस बताया था जो गलत था.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?