नोटबंदी के मुद्दे पर माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘जेबकतरा’ बताते हुए कहा कि उन्होंने ‘जेबकतरे’ की तरह लोगों का पैसा ले लिया साथ ही कालाधन रखने वालों की ब्लेकमनी को वाइट में तब्दील कर दी.

उन्होंने केंद्र सरकार पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि नोटबंदी के बावजूद विकास दर 7.1 प्रतिशत रहने का सरकार का दावा धोखाधड़ी करने वाला हैं. उन्होंने आगे कहा, एक दिन पहले ही भाजपा ने 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को बंद करने के फैसले को ‘पवित्र कदम’ कहा था और इससे अर्थव्यवस्था साफ-सुथरी होने का दावा किया था.

येचुरी ने कहा कि जब सरकार ने बैंकों में वापस आये नोटों पर कोई आंकड़ा जारी नहीं किया है और धन निकालने पर पाबंदी बरकरार है तो ‘कालेधन पर जीत’ का दावा भाजपा कैसे कर सकती है. येचुरी ने कहा कि 2014 के चुनावों से पहले मोदी ने कहा था कि 90 प्रतिशत कालाधन विदेशों में जमा है. इस मोर्चे पर प्रधानमंत्री कुछ नहीं कर रहे.

माकपा नेता ने आशंका जताई कि 31 मार्च के बाद नोटबंदी के नतीजतन ऐसा नहीं हो कि बैंकों में छापे गये नोटों से ज्यादा मुद्रा आ जाए. उन्होंने दावा किया, ‘‘अंतत: होगा यह कि काला धन सफेद हो जाएगा और जाली नोट वैध मुद्रा में तब्दील हो जाएंगे.’’


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें