Tuesday, July 27, 2021

 

 

 

आखिर क्यों यूपी सरकार मुस्लिमों के प्रति निर्दयी होने का मौका नहीं छोड़ती: ओवैसी

- Advertisement -
- Advertisement -

कोरोना संकट के बीच मुस्लिमों के मामले में योगी सरकार के रवैये पर सवाल खड़े करते हुए AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा कि यूपी सरकार मुस्लिमों और गरीबों के प्रति क्रूर होने का कोई भी मौका क्यों नहीं छोड़ती है?

ओवैसी ने अपने ट्वीट में कहा, “आखिर क्यों यूपी सरकार मुसलमानों और गरीबों के प्रति निर्दयी होने का कोई भी मौका नहीं छोड़ती है? अगर कोरोना टेस्ट में निगेटिव आए तबलीगी जमात के सदस्यों को दिल्ली और मध्य प्रदेश डिस्चार्ज कर रहे हैं तो फिर उन्हें रहने के लिए मजबूर क्यों किया जा रहा है? इस अक्षमता और सांप्रदायिकता की कीमत जन्म नहीं लेने वालों को भी चुकानी पड़ रही है।”

इसके साथ ही उन्होने एक खबर को भी शेयर किया। जिसमे दावा किया गया कि गुंटूर की गर्भवती महिला को COVID-19 के लिए बार-बार परीक्षण नकारात्मक होने के बावजूद उत्तर प्रदेश में एक “अस्थायी जेल” में जबरन रखा गया था। उसे कैद में गर्भपात हो गया था लेकिन फिर भी उसे अस्पताल ले जाने के लिए  तीन दिन तक इंतजार करना पड़ा।

बता दें कि दिल्ली सरकार पर भी कई बार जमातियों को जबरन क्वारंटाइन केंद्रों में बंद करके रखने के आरोप लगाए गए हैं। एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने इस प्रकार का आरोप दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर लगाया था। हालांकि दिल्ली सरकार ने तबलीगी जमात के लोगों की क्वारंटाइन सेंटर से रिहा करने के आदेश दे दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles