जब योगी आदित्यनाथ ने सदन में बताया, क्यों हार गये राहुल और अखिलेश?

9:57 pm Published by:-Hindi News
सौजन्य से: लोकसभा टीवी

नई दिल्ली | उत्तर प्रदेश के नव निर्वाचित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज सदन में वित् विधेयक पर चर्चा में हिस्सा लेने के लिए सदन पहुंचे. मुख्यमंत्री बनने के बाद वो पहली बार लोकसभा पहुंचे थे. सदन में प्रवेश करते ही बीजेपी सांसदों ने उनका ताली बजाकर स्वागत किया. इस दौरान सदन में जय श्री राम के नारे भी गूंजे. करीब साढ़े चार बजे लोकसभा पहुंचे योगी का स्वागत स्पीकर सुमित्रा महाजन ने भी किया.

इसके बाद योगी ने चर्चा में हिस्सा लेते हुए कहा की उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार सबका साथ सबका विकास की प्रेरणा लेकर काम करेगी और हर जाति ,समुदाय और प्रत्येक क्षेत्र के विकास के लिए काम करेगी. योगी ने सदन को आश्वस्त किया की मेरे बारे में चाहे जो भी अटकले लगाई जा रही हो, मैं उत्तर प्रदेश को प्रधानमंत्री मोदी के सपनो का प्रदेश बनायेंगे.

योगी ने आगे कहा की हम उत्तर प्रदेश को विकास का एक ऐसा मॉडल बनायेंगे जो दंगा मुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त और गुंडागर्दी मुक्त होगा और जिसमे युवाओं को रोजगार के लिए पलायन नही करना होगा. हम एक ऐसे प्रदेश बनायेंगे जिसमे महिलाओ की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके. इस दौरान योगी ने सदन को बताया की मैं पिछले डेढ़ दशक से भी ज्यादा समय से गोरखपुर से सांसद हूँ और इस दौरान वहां एक भी साम्रदायिक दंगा नही हुआ.

योगी सदन में थोडा हलके मूड में भी नजर आये. उन्होंने यूपी में अखिलेश और राहुल गाँधी की हार पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा की मेरी उम्र के बारे में सवाल किये जाते है. मैं खड्गे जी बताना चाहता हूँ की आदरणीय राहुल जी सदन में मौजूद नही है , लेकिन मैं उनसे एक साल छोटा हूँ. वही अखिलेश से एक साल बड़ा हूँ. उनके प्यार की वजह से मैं दोनों के बीच में आ गया. जो मैं समझता हूँ की इस जोड़ी का हार का कारण बना. इस पर खड्गे ने जवाब देते हुए कहा की अब आप एक पद पर है इसलिए आपको इसकी गरिमा को बरकरार रखना चाहिए.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें