हमने कभी नहीं कहा लोगों के खाते में 15 लाख रुपये आएंगे: राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी ने कभी नहीं कहा था कि लोगों को खाते में 15-15 लाख रुपए ट्रांसफर किए जाएंगे। न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, ”बिल्कुल नहीं कहा था कि 15 लाख (रुपये) आएंगे। ये कभी नहीं कहा।” उन्होंने कहा, ”हमने कहा था कि काले धन के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।”

राजनाथ सिंह ने कहा- हमने केवल कालेधन के खिलाफ कार्रवाई की बात कही थी और हमने कालेधन को लेकर एसआईटी का गठन भी किया। शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के बयान वन मैन शो और टू मैन आर्मी की बात पर राजनाथ सिंह ने कहा- ये सब बेबुनियाद बातें हैं। अगर पार्टी अध्यक्ष और पीएम हैं, तो वे लोग प्रमुख होंगे, जब मैं पार्टी अध्यक्ष था और मोदी जी पीएम उम्मीदवार थे तब मेरा नाम लिया जा रहा था।

मध्‍य प्रदेश में मुख्‍यमंत्री कमलनाथ के करीबियों पर छापों के बारे में राजनाथ सिंह बोले- छापों के पीछे कोई राजनीतिक प्रभाव नहीं है। एजेंसियां स्वतंत्र हैं। आचार संहिता उन पर लागू नहीं होती। गोपनीय जानकारी के आधार पर इस तरह की छापेमारी होती है।

200

राजनाथ सिंह ने कहा, ‘यह बिलकुल गलत हैं कि रेड के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। यह एक लगातार चलने वाली प्रक्रिया है। एजेंसियां अपने खुफिया इनपुट के आधार पर काम करती हैं।’ राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि जांच एजेंसियां आगे भी ऐसा काम करती रहेंगी जिससे चुनावों में बिना हिसाब-किताब के धन का गलत इस्तेमाल न हो सके।

आर्टिकल 35A हटाए जाने की स्थिति में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की चेतावनी पर उन्होंने कहा, ”यह कुंठा है और कुछ नहीं है। वह कुछ भी कह सकती हैं, लेकिन हमने जो फैसला किया है, हम वो करेंगे।” बता दें कि महबूबा मुफ्ती ने कहा था, ”अगर आर्टिकल 35A हटाया गया तो ना सिर्फ कश्मीर, बल्कि भारत भी जल उठेगा।”

पाकिस्‍तान के बालाकोट में एयर स्‍ट्राइक को लेकर राजनाथ सिंह ने कहा – सुरक्षा बलों से सबूत मांगना गलत है। उन्‍होंने कहा कि बालाकोट एयर स्‍ट्राइक में किसी आम आदमी को कोई नुकसान नहीं पहुंचे, इसको लेकर वायुसेना ने खास रणनीति बनाई थी।

विज्ञापन