Thursday, December 2, 2021

सरकार गिरने पर बोलीं महबूबा मुफ्ती – ‘जम्मू-कश्मीर दुश्मनों का क्षेत्र नहीं, जो चले सख्ती की नीति’

- Advertisement -

बीजेपी द्वारा समर्थन वापस लेने के बाद बीते 40 महीनो से चला आ रहा गठबंधन आज टूट गया। जिसके चलते जम्मू-कश्मीर मे बड़ा राजनीतिक संकट खड़ा हो गया है। अपनी सरकार गिरने को लेकर महबूबा मुफ़्ती ने कहा, जम्मू-कश्मीर दुश्मनों का क्षेत्र नही है।इसलिए यहाँ सख्ती भी नहीं चल सकती।

सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद उन्होने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, मुफ्ती साहब ने बहुत सोच-समझकर इस गठबंधन का फैसला लिया था। हमने बड़े विजन के लिए ये फैसला लिया था। मुफ्ती ने कहा है कि घाटी में डराने-धमकाने और बाहुबल की नीति नहीं चलेगी। हमें किसी पार्टी की जरूरत नहीं है। न ही किसी गठबंधन की।

उन्होने कहा कि सालों बाद लोग यहां सुकून से जी रहे थे। हमने तो राज्य को मुसीबतों से उबारने के लिए  गठबंधन किया था, पर बीजेपी वैसा नहीं चाहती है। उन्होंने कहा, इस गठबंधन में स्पेशल स्टेटस और 370 पर काम किया और 35 ए को लेकर कोर्ट में दलील दी।

महबूबा ने आगे कहा, हमारी कोशिशों से राज्य में सीजफायर हुआ। हम चाहते हैं कश्मीर के लोगों से बातचीत हो। पाकिस्तान से भी अच्छे संबंध हो। कश्मीर में सख्ती की पॉलिसी संभव नहीं। हमने 11 हजार नौजवानों से केस वापस लिए। हमने किसी भी पावर के लिए गठबंधन नहीं किया था, बल्कि कश्मीर की जनता के लिए गठबंधन किया था।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles