rahul gandhi 6 620x400

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के डायरेक्टर आलोक वर्मा को मंगलवार रात छुट्टी पर भेजे जाने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि राफेल डील की जांच के डर से  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हे छुट्टी पर भेज दिया।

आज मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के गढ़ झालावाड़ पहुंचे राहुल ने कहा कि वर्मा ने राफेल डील से संबंधित कागज मंगाए थे। मामले में आगे की जांच होने के डर से उन्हें छुट्टी पर भेजा गया है। इस दौरान राहुल ने उनकी नकल करते ‘चौकीदार चोर है’ के नारे भी लगवाए।

प्रधानमंत्री मोदी पर सीधे-सीधे हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मित्रों, मुझे प्रधानमंत्री नहीं बनना है मुझे तो देश का चौकीदार बनना है, लेकिन चौकीदार चोर हो गया। मोदी की नकल उतारते हुए वह सारी बातें कहने के दौरान बार-बार चौकीदार बोलते थे और भीड़ से चोर कहलवा रहे थे। राहुल गांधी ने मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि नीरव मोदी, ललित मोदी और नरेंद्र मोदी तीनों के नाम में मोदी लगा हुआ है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वसुंधरा और मोदी पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि इनको किसानों और गरीबों की चिंता नहीं है, इनको तो ललित मोदी की चिंता है। वसुंधरा राजे और नरेंद्र मोदी की तस्वीर कभी गरीब और किसान के साथ नहीं देखी होगी। ये अपने ललित मोदी के साथ रहते हैं। राहुल ने आगे कहा कि वसुंधरा राजे के बेटे को ललित मोदी ने करोड़ों रुपए दिए और सुषमा स्वराज की बेटी से उनका रिश्ता है।

इस मसले पर उन्होने एक ट्वीट भी किया। ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘सीबीआई चीफ आलोक वर्मा राफेल घोटाले के कागजात इकट्ठा कर रहे थे। उन्हें जबरदस्ती छुट्टी पर भेज दिया गया। प्रधानमंत्री का मैसेज एकदम साफ है जो भी राफेल के इर्द गिर्द आएगा, हटा दिया जाएगा, मिटा दिया जाएगा। देश और संविधान खतरे में हैं।’

इससे आगे राहुल गांधी ने कहा, ‘मोदी जी ने लाल किले पर खड़े होकर कहा कि मेरे प्रधानमंत्री बनने से पहले हाथी सो रहा था। मतलब इनकी सोच देखो मेरे आने से पहले हाथी सो रहा था हिंदुस्तान सो रहा था।’ मोदी जी का यह बयान देश के हर नागिरक का अपमान करता है और हर किसी पर सवाल उठाता है। राहुल ने कहा यह शर्म की बात है।

Loading...