आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) अध्यक्ष और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी को यजीदी एजेंट करार दिया.

न्यूज 18 इंडिया के एक कार्यक्रम ‘हम तो पूछेंगे’ में बाबरी मस्जिद के मुद्दे पर चल रही डिबेट में ओवैसी ने कहा कि वसीम रिजवी यजीद का एजेंट है. वह हजरत अब्बास का साथी नहीं है. योगी सरकार ने खुद उसे पद से हटाया दिया था, तब सुप्रीम कोर्ट जाकर उसने सरकार के आदेश पर रोक लगवाई.  उन्होंने ये बात वसीम रिजवी और श्री श्री रविशंकर की मुलाकात को लेकर कही.

उन्होंने कहा, ‘इस मुद्दे पर क्या बातचीत होगी. रवि शंकर प्रसाद दबी जुबान में मुस्लिमों से कह चुके हैं कि आप अपने हक से पीछे हट जाइए. हालांकि उन्होंने ये साफ तौर पर नहीं कहा.

ध्यान रहे वसीम रिजवी बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर निर्माण की वकालत कर चुके है. उन्होंने दावा किया कि 2018 में राम मंदिर का निर्माण भी शुरू हो जाएगा. इसी के साथ उन्होंने बाबरी मस्जिद को शिया संपति भी करार दिया हुआ है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें