गुजरात के बनासकांठा में बाढ़ पीड़ितों से मिलने के लिए पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के काफिले पर शुक्रवार को हमला हुआ था. इस हमले को लेकर उन्होंने आरएसएस और बीजेपी के लोगों को जिम्मेदार बताया है. इस हममें में राहुल बाल-बाल बचे थे.

राहुल ने कहा कि ये बीजेपी और आरएसएस  की राजनीति की शैली है. उन्होंने कहा, ये हमला जानलेवा और पहले से प्लान था. राहुल ने कहा, कल (शुक्रवार) भाजपा कार्यकर्ताओं ने इतना बड़ा पत्थर फेंका. वह मेरे एक पीएसओ को लगा, जिससे उन्हें चोट आ गई. ह मोदीजी, भाजपा और आरएसएस की राजनीति करने की शैली है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

राहुल ने ट्वीट कर कहा- ”पथराव को लेकर FIR दर्ज नहीं करने पर कांग्रेस वर्कर प्रदर्शन कर रहे हैं. उनकी भावनाओं का सम्मान करें. लेकिन मैं उनसे (वर्कर्स) अपील करता हूं कि अपनी एनर्जी बाढ़ पीड़ितों की मदद करने में लगाएं.’

गुजरात में बनासकांठा जिले में एक बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में राहुल के दौरे के समय काले झंडे लहरा रहे बीजेपी समर्थकों ने उनकी कार पर पत्थर फेंका था. जिससे उनकी कार की खिड़कियां टूट गईं और उनका पीएसओ घायल हो गया था.

इस हमले को लेकर जारी पीएम मोदी की चुप्पी पर राहुल ने निशाना साधते हुए कहा कि  प्रधानमंत्री उनके काफिले पर हमले की निंदा कैसे कर सकते हैं, जब हमलावर उनकी पार्टी के ही हैं. उन्होंने कहा, “जब उन लोगों ने खुद यह किया है, तो वे इसकी आलोचना कैसे कर सकते हैं?”

Loading...