Wednesday, May 25, 2022

उपचुनाव में हार बनी वसुंधरा की मुसीबत, बीजेपी नेता पद से हटाने पर जुटे

- Advertisement -

राजस्थान में दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में मिली बीजेपी को करारी हार मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया के लिए बड़ी मुसीबत बन गई. पार्टी नेता इस हार के जिम्मेदार ठहराते हुए महारानी को कुर्सी से हटाने की कोशिश में जुट गए है.

कोटा जिला ओबीसी सेल के अध्यक्ष अशोक चौधरी ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को पत्र लिख ने केवल मुख्यमंत्री वसुंधरा को बल्कि प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को भी हटाने की मांग की है. उन्होंने पत्र में कहा, ‘‘वसुंधरा ने पार्टी को हार के मोड़ पर लाकर खड़ा किया है. हर वर्ग के अंदर आक्रोश पनप रहा है, कार्यकर्ता सूबे के शीर्ष नेतृत्व में बदलाव चाहते है.”

चौधरी ने पत्र में वसुंधरा राजे और अशोक परनामी का नाम लिखकर उनके इस्तीफे की मांग की है. ध्यान रहे वसुंधरा पहले पार्टी में बागियों के निशाने पर है. जिनमे सबसे आगे पार्टी के विधायक घनश्याम तिवाड़ी उनके खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं.

ध्यान रहे राज्य में साल के आखिर में चुनाव होने है. ऐसे में उपचुनाव को सेमीफाइनल माना जा रहा था. इस सेमीफाइनल में बीजेपी को कांग्रेस से तीन सीटों में करारी हार मिली है. अजमेर लोकसभा सीट पर 85 हजार, अलवर लोकसभा सीट पर दो लाख वोटों से कांग्रेस प्रत्याशी ने भाजपा उम्मीदवार को हराया.

इसके अलावा एकमात्र मांडलगढ़ विधानसभा सीट के उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी को 13 हजार वोटों से हार का सामना करना पड़ा.

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles