नई दिल्ली । काफ़ी दिनो से भाजपा के अंदर उपेक्षित दिखायी दे रहे सांसद वरुण गांधी जल्द ही एक बड़ा फ़ैसला ले सकते है। मिली जानकारी के अनुसार वरुण गांधी कांग्रेस मे शामिल होने पर विचार कर रहे है। सुल्तानपुर से भाजपा सांसद वरुण गांधी, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के चचेरे भाई है। इसलिए उम्मीद है की वो राहुल के कांग्रेस की कमान सम्भालने के बाद कांग्रेस का रख कर सकते है।

हालाँकि अभी तक वरुण की तरफ से इस तरह के संकेत नही मिले है लेकिन कांग्रेस के कई सूत्रों के अनुसार बहुत जल्द ऐसा हो सकता है। इसके पीछे के कारणो का हवाला देते हुए उन्होंने बताया की भाजपा में वरुण को उनके क़द के अनुसार तवज्जो नही दी जा रही है। ख़ासकर नरेंद्र मोदी और अमित शाह के भाजपा की कमान सम्भालने के बाद उनको किनारे कर दिया गया। इस वजह से उनके अंदर भाजपा के प्रति नाराज़गी भी देखी गयी है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हाल फ़िलहाल में उन्होंने कई बार पार्टी लाइन से इतर बयान दिया है। चाहे रोहिंग्या शरणार्थियों का मुद्दा हो या फिर मोदी सरकार की आर्थिक नीतियो का। वरुण ने हर बार पार्टी लाइन के ख़िलाफ़ जाकर बयान दिया है। कांग्रेस के मुस्लिम नेता हाजी जमीलुद्दीन ने इंडिया टुडे से बात करते हुए कहा की भाजपा में मोदी के अलावा किसी को अपनी बात कहने का हक़ नही है। जबकि वरुण लगातार अपनी बात रखते है। भाजपा के कई समर्थक चाहते थे की वरुण यूपी का सीएम बने लेकिन ऐसा नही हुआ।

उधर दूसरे कांग्रेसी नेता हाजी मंज़ूर अहमद का कहना है की आगामी लोकसभा चुनावों से पहले वरुण कांग्रेस में आ सकते है। अगर ऐसा हुआ तो राहुल और वरुण की जोड़ी मिलकर कमाल कर सकती है। उनके अनुसार वरुण और प्रियंका गांधी के अच्छे सम्बंध है। वह वरुण को कांग्रेस में लाने में महती भूमिका निभा सकती है। वैसे भी आज तक न ही राहुल और न ही वरुण ने एक दूसरे के ख़िलाफ़ कोई बयान बाज़ी नही की। अगर ऐसा होता है तो राहुल की ताजपोशी के बाद कांग्रेस को एक नई ऊर्जा मिलनी तय है।

Loading...