Saturday, September 18, 2021

 

 

 

उड़ी हमले में उतने जवान शहीद नहीं हुए जितने सरकार की गलत नीतियों में मारे गए: गुलाम नबी आजाद

- Advertisement -
- Advertisement -

Gulam-Nabi-azad-620x400

राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर आलोचना करते हुए कहा कि उरी हमले में भारत के इतने जवान शहीद नहीं हुए जितने बीजेपी सरकार की गलत नीतियों में मौत के घाट चढ़ गए.

आजाद ने कहा कि हम सर्जिकल स्ट्राइक का स्वागत करते हैं लेकिन बडे नोटों को बंद करने का फैसला सही नहीं था. छोटे-छोटे दुकानदार और गरीब लोग परेशान हो रहे हैं. सरकार की गलत पॉलिसी की वजह से लोग मर रहे हैं. जो भी सरकार और उसकी नीतियों पर सवाल उठाते हैं, वो उन्हें एंटी नेशनल ठहरा देते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान की फायरिंग से हम मरते आए हैं, आपको तो चूहों ने भी नहीं काटा. आप तो वहां शादियों में जाते हैं. हमने तो वहां के लोगों की शक्लें नहीं देखी हें. आप उनकी दावतें खाते हो,आप नवाज शरीफ से दोस्ती करते हो.

गौरतलब रहें कि 18 सितंबर को कश्मीर के उरी सेक्टर में आतंकियों ने एक सेना कैम्प पर हमला कर दिया था. इसमें भारतीय सेना के कुल 20 जवान शहीद हो गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles