अपनी कमियों को छुपाने के लिए उठा रहे राम मंदिर का मुद्दा: आजम खान

जनेश्वर मिश्रा पार्क में ई-रिक्शा वितरण कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के शहरी विकास मंत्री आजम खां ने अपने विपक्षी पार्टियों और पार्टी के अंदर के विरोधियों का जिक्र करते हुए कहा कि वह समाज में सबसे ज्यादा नफरत किए जाने वाले शख्स हैं।

आजम ने कहा कि वह बेहद साफ और ईमानदार व्यक्ति हैं लेकिन फिर भी उन्हें कई बार बिना किसी कारण घसीटा जाता है। आजम ने ऐसे कार्यक्रम में यह बात कही जब उसी मंच पर राज्य के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मौजूद थे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आजम ने कहा, ‘मैं हमेशा इतना ईमानदार रहा हूं कि मैंने हर बार अपनी गलतियों को स्वीकार किया है लेकिन मेरे विरोधियों ने मुझे बदनाम करने का कभी भी मौका नहीं छोड़ा है। मैं इस दुनिया को रहने लायक बेहतर जगह बनाना चाहता हू्ं, इसलिए चुप रहना पसंद करता हूं।’

आजम ने आगे कहा कि महात्मा गांधी ने एक बार कहा था कि जब सभी एक-दूसरे पर पत्थर फेंकने लगेंगे तो यह दुनिया रहने लायक ही नहीं रहेगी। इसी के साथ ही आजम खां ने गरीबों को सरकार द्वारा ई-रिक्शा वितरण स्कीम की तारीफ की।

Loading...