श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने से रोकने के मामले में शिवसेना के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि अगर कोई लाल चौक, श्रीनगर या कश्मीर में तिरंगा लहराने की कोशिश करता है तो उसे रोकने के प्रयास को मैं राष्ट्रद्रोह मानता हूं।

उन्होने धारा 370 को फिर से लागू करने वाली मांग को लेकर कहा कि अगर महबूबा मुफ्ती, फारूक अब्दुल्ला और अन्य लोग चीन की मदद से कश्मीर में अनुच्छेद 370 लागू करना चाहते हैं तो केंद्र सरकार को सख्त कदम उठाने चाहिए। अगर कोई भी व्यक्ति जो कश्मीर में तिरंगा फहराना चाहता है, उसे रोका जाता है, तो मैं इसे ‘राष्ट्र द्रोह’ मानता हूं।

यूनिफॉर्म सिविल कोड के सवाल पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि हमने पहले भी कहा है कि देश में यूनिफॉर्म सिविल कोड लागू होना चाहिए। अगर सरकार ऐसा कुछ करती है, तो हम इस बारे में निर्णय लेंगे।

बता दें कि अनुच्छेद 370 को लेकर महबूबा मुफ्ती ने बड़ा बयान देते हुए कहा था कि जब तक हमारा झंडा वापस नहीं मिल जाता हम दूसरा झंडा नहीं उठाएंगे। मुफ्ती ने कहा कि हम अनुच्छेद  370 वापस लेकर रहेंगे।

उन्होने अपने हाथ में जम्मू-कश्मीर का झंडा दिखाते हुए कहा- ‘मेरा झंडा ये है। जब ये झंडा वापस आएगा तब हम तिरंगा भी फहराएंगे। जब हम तक हमें अपना झंडा वापस नहीं मिलता तब तक हम कोई झंडा नहीं फहराएंगे। हमारा झंडा ही तिरंगे के साथ हमारे संबंध को स्थापित करता है।’

वहीं इंडिया टुडे से बातचीत में जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला ने कहा था कि जम्मू कश्मीर में दोबारा धारा 370 को लागू करने में चीन उनकी मदद कर सकता है। उन्होंने कहा था कि चीन मदद कर सकता है, लेकिन मैंने कभी चीन के राष्ट्रपति से बात नहीं की। हमारे प्रधानमंत्री ने ही उन्हें गुजरात घुमाया , झूले पर बिठाकर साथ झूला झूले। उन्हें खूब खिलाया।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano