शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सीधे-सीधे प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी पर निशाना साधने हुए उन्‍हें चोरों का प्रधानमंत्री कहा हैं. उद्धव ठाकरे ने कहा कि नोट बंदी करके बिना सोचे समझे आपने देश के किसानो और महिलाओं को उनके छिपे हुए धन को बाहर कराके उन्हें चोर साबित करने का प्रयास किया है. अब बीजेपी के मुताबिक ये सब चोर है तो पीएम नरेंद्र मोदी भी चोरों के प्रधानमंत्री है.

उन्होंने आगे कहा कि नोटबंदी कोई प्राक्रतिक संकट थोड़े ही है ये तो मोदी द्वारा जान बुझ कर पैदा किया गया संकट है. इसके जिम्मेदार पीएम मोदी है. मुंबई के उपनगर भांडुप में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा, ‘‘जिस पार्टी का अध्यक्ष रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया उसे शिवसेना से शासन में पारदर्शिता की मांग नहीं करनी चाहिए.’’

उद्धव ने भाजपा के दिवंगत अध्यक्ष बंगारू लक्ष्मण से जुड़े वर्ष 2001 का ‘‘रिश्वत’’ मुद्दा उठाते हुए कहा, बंगारू लक्ष्मण का रिश्वत लेना अपारदर्शी शासन का केवल एक मामला भर नहीं है. दरअसल भाजपा ने बृहन्मुंबई महानगर पालिका चुनावों में ‘‘पारदर्शिता’’ को मुख्य विषय बनाया है.

गौरतलब है कि एक स्टिंग ऑपरेशन में लक्ष्मण एक रक्षा सौदे को आगे बढाने के लिए कथित तौर पर एक लाख रूपये की रिश्वत लेते हुए कैमरे पर पकड़े गये थे. अप्रैल 2012 में सीबीआई अदालत ने उन्हें दोषी ठहराते हुए चार साल की सजा सुनाई थी. उनका मार्च 2014 में हैदराबाद में निधन हो गया था.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें