पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ मुलाक़ात के बाद शनिवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने ममता को शेरनी करार देते हुए कहा कि उन्होंने पश्चिम बंगाल में कम्युनिस्ट शासन का अंत किया है. जो कांग्रेस और बीजेपी भी नहीं कर सकी है.

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में लिखा है, ‘‘ममता बनर्जी के कुछ रूख विवादास्पद हो सकते हैं और उनमें से कुछ शिवसेना के विचार से नहीं मिलते-जुलते होंगे. लेकिन उन्होंने अपने राज्य में कम्युनिस्टों को खत्म कर दिया जिसके खिलाफ हमेशा से शिवसेना लड़ती रही है.’’

संपादकीय में लिखा है, ‘‘शेरनी ने वह कर दिखाया जो कांग्रेस और भाजपा भी नहीं कर सकी. उन्होंने कम्युनिस्टों के 25 वर्ष पुराने शासन को खत्म कर दिया.’’ ‘‘ऐसा करने के लिए उन्होंने ईवीएम मशीन से छेड़छाड़ नहीं की या वोट नहीं खरीदे.’’

शिवसेना प्रमुख ने आगे कहा, लोगों ने उन्हें काफी विश्वास के साथ राज्य का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी दी. लेकिन अब प्रयास किए जा रहे हैं कि पश्चिम बंगाल में विकास रोका जाए और वित्तीय समस्याएं पैदा की जाएं.

उन्होंने कहा कि लेकिन अब प्रयास किए जा रहे हैं कि पश्चिम बंगाल में विकास रोका जाए और वित्तीय समस्याएं पैदा की जाएं. राज्य (बंगाल) भारत का हिस्सा है और इसके विकास को बेपटरी करना देश के विकास को बाधित करना है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?