मुंबई | प्रधानमंत्री मोदी के ‘जन्मकुंडली’ और ‘रेनकोट ‘वाले बयान की आलोचना करते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा की वो यह मत भूले की हमारे पास भी उनकी कुंडली मौजूद है. उधर शिवसेना के मुखपत्र सामना में भी उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा. मुंबई के नगर निकाय चुनावो में बीजेपी से अलग चुनाव लड़ रही शिवसेना ने चुनाव बाद राज्य सरकार और केंद्र सरकार से अलग होने के सम्बन्ध में भी निर्णय लेने का फैसला किया है.

अपने घर ‘मातोश्री’ में मीडिया से मुखातिब होते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा की बीजेपी नेताओं को सत्ता के अलावा कुछ नही दिखायी देता, इसके लिए वो झूठ बोलने से भी नही हिचकिचाते. वो झूठे है और उनके सभी नेता भ्रष्टाचार में लिप्त है. जबकि शिवसेना के किसी भी नेता पर आजतक भ्रष्टाचार का आरोप नही लगा है. यही कारण है की हमने अलग चुनाव लड़ने का फैसला किया.

उद्धव ने अगले सभी चुनावो में अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा करते हुए कहा की चुनाव परिणामो के बाद केंद्र और राज्य सरकार में शामिल रहने के निर्णय पर पुनर्विचार किया जाएगा. उन्होने अभी गठबंधन से अलग नही होने पर कहा की हमें किसी ने अलग होने के लिए नही कहा है. अब वो फंस चुके है. हम उनको पसंद नही है फिर भी वो हमें जाने के लिए नही कह रहे है.

प्रधानमंत्री मोदी पर हमला करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा की आजाद भारत के राजनितिक इतिहास में आज तक ऐसा कोई प्रधानमंत्री नही हुआ जो इतना नीचे गिरा हो. उद्धव , मोदी की हालिया टिपण्णी पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे. मोदी के जन्मकुंडली वाले बयान पर उद्धव ने कहा की वो याद रखे की हर पैदा होने वाले की जन्मकुंडली होती है. इसलिए वो यह न भूले की हमारे पास भी उनकी जन्मकुंडली है.

गोधरा काण्ड का जिक्र करते हुए उद्धव ने कहा की जब गोधरा दंगे हुए तो मेरे पिता बाल ठाकरे हमेशा उनके (मोदी) पीछे खड़े रहे. मोदी के रेनकोट वाले बयान पर शिवसेना के मुखपत्र सामना में उद्धव के हवाले से लिखा गया की प्रधानमंत्री जैसे पद पर बैठे आदमी को बाथरूम छाप राजनीती नही करनी चाहिए. किसी के बाथरूम में झांककर नही देखना चाहिए. यह टालना चाहिए.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें