Monday, June 14, 2021

 

 

 

राम मंदिर पर कांग्रेस नेता ने मांगा चंदे का हिसाब, भाजपा बोली – पहले दो 101 करोड़ का दान

- Advertisement -
- Advertisement -

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के चंदे का हिसाब मांगा है। उन्होने कहा कि मंदिर निर्माण के नाम पर सात लाख गांव से पैसे वसूले गए हैं। इस चंदे का पूरा लेखा-जोखा देश के सामने आना चाहिए।

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा, ‘चंदे का पूरा हिसाब देश के सामने आना चाहिए। हिसाब मांगना गलत नहीं है। इस पर किसी तरह का विवाद नहीं होना चाहिए। किसी को भी हिसाब देने में क्या परेशानी है। पहले भी पारदर्शिता की मांग उठती रही है। चंदे के तौर पर एकत्रित हुए पैसे कहां खर्च हो रहे हैं। देश में सात लाख के आसपास गांव हैं, बताएं गांवों से कितना पैसा मिला और कितना राम मंदिर न्यास को दिया गया। हमारी सरकार भी मंदिर ट्रस्ट को सहयोग देगी।’

उनका ये बयान विश्व हिंदू परिषद के ऐलान के बाद आया। जिसमे कहा गया कि छत्तीसगढ़ में हर गांव से राम मंदिर निर्माण के लिए पैसे इकट्ठा किए जाएंगे। इस पर उन्होंने कहा कि अब तक जितना धन इकट्ठा किया गया उसका क्या हुआ। उन्होंने कहा कि पारदर्शी तरीके से इन कामों को किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जरुरी नहीं कि जो काम भगवा दल करे वहीं कांग्रेस करे। कांग्रेस पार्टी ने भी बहुत सारे मंदिर बनवाएं हैं।

वहीं कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने पूछा है कि अदालत के निर्देश पर बनी समिति ने मंदिर निर्माण में सहयोग के लिए अपने बैंक खाते को सार्वजनिक किया है। जो श्रद्धालु निर्माण में सहयोग करना चाहते हैं वे इस खाते में सीधा सहयोग कर सकते हैं। आरएसएस किस हैसियत से मंदिर के नाम पर चंदा एकत्रित करने जा रही है? उसे किसने चंदा एकत्रित करने के लिए अधिकृत किया है? भाजपा और आरएसएस के लोग बताएं कि मंदिर के नाम पर एकत्रित हजारों करोड़ रुपये कहां गए?

इस पर छत्तीसगढ़ भाजपा प्रवक्ता गौरीशंकर श्रीवास ने कहा कि उन्हें अयोध्या जाकर रामलला से पूछना चाहिए। उन्होंने कांग्रेस को नकली हिंदू पार्टी बताते हुए कहा कि स्वास्थ्य मंत्री अयोध्या जाकर पहले श्रीराम के दर्शन करें और वहां हिसाब मांगें। वो विश्व हिंदू परिषद की नियत पर सवाल नहीं उठा सकते। भाजपा नेता ने कहा कि हिसाब मांगने से पहले राज्य की कांग्रेस सरका मंदिर निर्माण के लिए 101 करोड़ रुपए दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles