muhh

पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में तृणमूल कांग्रेस नेता ने मुस्लिमों से मुहर्रम के जुलूस में तलवार-लाठियों का इस्तेमाल न करने की अपील की।

पार्टी  के बीरभूम जिला अध्यक्ष अनुव्रत मंडल ने सोमवार को कहा, ‘मुहर्रम को वैसे ही मनाया जाना चाहिए जैसे कि दुर्गा विसर्जन पर किया जाता है। हमने मुहर्रम को शांति के साथ मनाने की अपील की है और हम भी इसमें हिस्सा लेंगे।’

मंडल ने कहा, ‘उनके धर्म में तलवार या लाठियों का कोई इस्तेमाल नहीं है. ये बहुत मुकद्दस (पवित्र) धर्म है, जो दुनिया को अच्छा संदेश देता है। यहां एक भी मौलवी ने लाठियों के इस्तेमाल (मुहर्रम के दौरान) के बारे में नहीं बोला है।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि मंडल ने बोलपुर में टीएमसी अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ की बैठक में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होने कहा कि ‘इस्लाम कठिन धर्म है। मैं समझता हूं कि ये हिंदू धर्म से ज्यादा कठिन है। आज मैंने उनसे (इमामों) जो भी सुना वो मुझे अच्छा लगा।’

बता दें कि ममता बनर्जी ने राज्य अवैध तरीके से हथियारों के साथ जुलूस निकालने वालों पर पाबंदी लगा रखी है। 2 जनवरी 2018 को कोलकाता पुलिस ने एक अधिसूचना के जरिए शहर और आसपास एक साल तक हथियारों के किसी भी तरह के सार्वजनिक प्रदर्शन पर प्रतिबंध लगा दिया।

Loading...