बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कहा कि उनकी पार्टी तीन तलाक से संबंधित पीड़ाओं से मुस्लिम महिलाओं को बचाना चाहती है.

शाह ने अगरतला में मीडियाकर्मियों से कहा कि तीन तलाक हर हाल में बंद होना चाहिए. इसे जारी नहीं रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि इसके कारण मुस्लिम महिलाओं को ढेर सारी पीड़ा झेलनी पड़ती है. शाह ने कहा कि मैं मानता हूं कि महिलाओं को उनके अधिकार मिलने चाहिए. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि तीन तलाक का मुद्दा समान नागरिक संहिता से अलग है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान उन्होंने आगे कहा किपिछले 25 साल से त्रिपुरा भ्रष्टाचार का माहौल महसूस कर रहा है जहां कानून व्यवस्था की स्थिति वस्तुत: ध्वस्त हो गई है तथा महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं. उन्होंने अन्य गैरवाम राजनीतिक दलों के साथ गठबंधन की संभावना से इंकार नहीं किया लेकिन कहा कि पार्टी अपना आधार मजबूत करने पर विशेष जोर दे रही है.

गौरतलब रहे कि शाह अपनी अखिल भारतीय विस्तार यात्रा के हिस्से के रूप में दो दिवसीस त्रिपुरा दौरे पर हैं. वह उत्तरी त्रिपुरा के कुमारघाट में रविवार को एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करने वाले हैं.

Loading...