केंद्र की मोदी सरकार द्वारा गणतंत्र दिवस पर देश के दुसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान को एक ऐसे शख्स जिस पर क्रिमिनल केस चल रहे हैं पर दिए जाने को लेकर एआईएमआईएम नेता असदउद्दीन ओवैसी भड़क गए हैं.

यूपी के नगीना में चुनावी सभा संबोधित करने पहुंचे ओवैसी ने भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी को पदम विभूषण दिए जाने पर सवाल उठाते हुए कहा कि “सरकार ने ऐसे व्यक्ति को यह सम्मान दिया है, जिसके खिलाफ क्रिमनल केस दर्ज है. उन्होंने कहा, जिस शख्स पर सीबीआई ने विवादित ढांचे के विध्‍वंस का आरोप लगाते हुए मुकदमा चलाया है. उसको देश का भारत रत्न के बाद दूसरा सबसे बड़ा पुरस्कार देना गलत है.

ओवैसी ने सवाल उठाते हुए पूछा कि मोदी सरकार को देश में उन्हें कोई और इस सम्मान के योग्य नहीं दिखा. ओवैसी ने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि आप सबका साथ, सबका विकास नहीं चाहते आप हिंदुत्व को मज़बूत करना चाहते हैं. जिस शख्‍स पर इतने संगीन जुर्म का मुकदमा चल रहा है आप उसे पदम् विभूषण देते हैं.उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा, “आर्टिकल 29” में स्पष्ट हैं कि पदम विभूषण भारत रत्न के बाद दूसरा बड़ा सम्मान है. इतने बड़े सम्मान को ऐसे व्यक्ति को देना जिस पर क्रिमिनल केस हो यह सम्मान का अपमान है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आरएसएस प्रचारक और मेघालय के पूर्व गवर्नर के इस्तीफे पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा, उन्होंने राजभवन की गरिमा को तार-तार कर दिया है. वहां के कर्मचारियों ने प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखकर बताया कि गवर्नर रात में राजभवन को महिलाओं का नाइट क्लब बना देते हैं.गवर्नर साहब वहां पर रात को रंगरलियां मनाते हैं.

Loading...