बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज मुहर्रम की दसवीं तारीख पर हजरत इमाम हुसैन की शाहदत और करबला के शहीदों को नमन किया और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की.

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक, नीतीश कुमार ने कहा कि मैदान-ए-करबला में अन्याय, जुल्म और अहंकार के खिलाफ हक और सच्चाई के लिए हजरत इमाम हुसैन और उनके 72 अनुयायियों द्वारा दी गयी कुर्बानी अमर है.

इसे दुनिया के रहने तक याद किया जायेगा. इससे प्रेरणा लेकर हमें इंसानियत, सच्चाई और भलाई के लिए बड़ी से बड़ी कुर्बानी देने के लिए सदैव तैयार रहना चाहिए.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुहर्रम पर प्रदेशवासियों से अपील की कि वे हजरत इमाम हुसैन की कुर्बानी को याद करें और सच, इंसानियत, हक और भलाई के आदर्शों को अपनाये तथा बुराइयों, अहंकार और आतंक के खिलाफ माहौल बनाये.

गौरतलब रहें कि इस्लाम धर्म के संस्थापक हजरत मुहम्मद (सल्ल.) के नवासे हजरत इमाम हुसैन 10 मुहर्रम को इराक के कर्बला के मैदान में अपने 72 साथियों के साथ शहीद हो गए थे.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?