Friday, January 28, 2022

‘मोदी सरकार सच में देशभक्त हैं तो तत्काल पाकिस्तान के साथ सभी रिश्तें तोड़े’

- Advertisement -

उलेमा कौन्सिल राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना आमिर रशादी ने ने कश्मीर के उरी में सेना बेस कैंप पर हुए आतंकी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी सरकार अगर सच में देशभक्त हैं तो तत्काल पाकिस्तान के साथ सभी समझौतो और सम्बन्धों को तोड़ने की हिम्मत दिखाएं.

उन्होंने आगे कहा कि देश का नौजवान आतंकी घटनाओं में शहीद हो रहा है. लेकिन देश भक्ति का तमगा लगाये देश के प्रधानमंत्री केवल बयानबाजी कर रहे है. उन्होने कहा कि अगर देश के प्रधानमंत्री सच्चे देशभक्त है तो उन्हे तत्काल पाकिस्तान के साथ सभी तरह के समझौते को तोड़ लेना चाहिए और सख्ती दिखानी चाहिए.

बटला हाउस इन्काउन्टर की नौवीं बर्सी पर उन्होंने कहा कि 9 सितम्बर 2008 के बटला हाउस फर्जी इन्काउन्टर में जनपद के दो होनहार छात्रों के साथ एक जांबाज पुलिस अफसर को मौत के घाट उतार दिया गया और कई अन्य मुस्लिम नौजवानों को आतंकवाद के झूठे आरोप में सलाखों के पीछे डाला गया और उनका जीवन बर्बाद कर दिया गया. उन्होंने आगे कहा बाटला की आंच सिर्फ मुसलमानों तक सिमित नही रही बल्कि आतंकवाद का कलंक हमारे पूरे जिले आजमगढ़ पर लगा. उन्होंने कहा कि इस कलंक को मिटाने के लिए ओलमा कौन्सिल लगातार पिछले 8 वर्षो से न्यायिक जांच की मांग कर रही है, ताकि सच सामने आ सके.

उन्होंने कहा कि वह केन्द्र व दिल्ली की सरकार से बटला हाउस इन्काउन्टर की न्यायिक जांच की मांग करेंगे और कांग्रेस और उसकी उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार शीला दीक्षित का विरोध कर उनका असली चेहरा जनता के सामने भी करेंगे. क्योंकि शीला दीक्षित की सरकार ने कोई जांच नही करायी. इसके अलावा उन्होंने बिजनौर हत्याकांड पर कहा, इस हत्याकांड में चार लोगों की मौत के साथ 2 वर्ष के बच्चे से लेकर 60 वर्ष तक के बुजुर्ग तक दर्जनों को घायल किया जाता है और पुलिस मौन खड़ी तमाशा देखती है. उन्होंने कहा कि इस नरसंहार में सपा तथा भाजपा दोनों शामिल है और मिलकर मिलकर एक बार फिर प्रदेश में एक और मुजफ्फरनगर को अंजाम देना चाहते है ताकि ध्रूवीकरण कर राजनैतिक लाभ उठाया जा सके.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles