ईद उल अज़हा से ठीक पहले अपने बयानों को लेकर हमेशा में चर्चा रहने वाले हैदराबाद से बीजेपी विधायक टी. राजा सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होने अपना इस्तीफा गोरक्षा में बीजेपी से सहयोग नहीं मिलने पर दिया है।

गौरक्षा के नाम पर हत्या को सही ठहराने वाले टी. राजा का कहना है कि ‘मेरे लिए राजनीति बाद में और हिंदू धर्म और गोरक्षा पहले आती है। मैंने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है। मैंने विधानसभा में कई बार इस मुद्दे को उठाया लेकिन पार्टी से मुझे किसी प्रकार का सहयोग नहीं मिला।” उन्होंने आगे कहा, ”मैं और गोरक्षा की टीम अब सड़क पर उतरेगी और राज्य में गोहत्या पर रोक लगाएंगे।”

विधायक ने कहा कि उन्होंने अपना इस्तीफा पार्टी अध्यक्ष डॉ. के. लक्ष्मण ने को चार दिन पहले ही अपना इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने कहा कि वे बीजेपी को किसी भी मुश्किल में नहीं डालना चाहते हैं इसलिए इस्तीफा देने का फैसला किया है।

राजा सिंह ने कहा, “आगामी बकरीद के दिन हम तेलंगाना की सड़कों पर हम खुद गोरक्षा करेंगे, चाहे मरेंगे, चाहे मारेंगे लेकिन गाय को हम मरने नहीं देंगे।” उन्होंने कहा कि मैं जो काम करुंगा, इससे बीजेपी को मत जोड़िएगा यह मेरा व्यक्तिगत काम है।

आपको बता दें कि देशभर में गोरक्षा के नाम पर अब तक कम से कम 39 लोगों की हत्या हो चुकी है। जिनमे अधिकतर मुस्लिम है। पिछले दिनों ही राजस्थान के अलवर और हरियाणा के पलवल में गौ रक्षकों ने अकबर नामक युवक कि पीट-पीटकर (मॉब लिंचिंग) हत्या कर दी थी।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें