Saturday, October 23, 2021

 

 

 

तेज प्रताप यादव ने RJD उम्मीदवार को बताया आरएसएस एजेंट और आर्म्स डीलर

- Advertisement -
- Advertisement -

जहानाबाद: राष्ट्रीय जनता दल के मुखिया और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव अपने पिता की पार्टी से अलग होकर लालू राबड़ी मोर्चा पहले ही बना चुके हैं। रविवार को उन्होने आरोप लगाया कि जहानाबाद संसदीय सीट से पार्टी उम्मीदवार आरएसएस एजेंट हैं।

खबर है कि जहानाबाद सीट से अपनी-अपनी पसंद के उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतारने के चलते दोनों भाईयों में विवाद है। तेज प्रताप चाहते थे कि उनके सहयोगी चंद्र प्रकाश को जहानाबाद सीट से आरजेडी उम्मीदवार बनाया जाए, मगर तेजस्वी ने उनकी इस सलाह को मानने से इनकार कर दिया और सुरेंद्र यादव को पार्टी उम्मीदवार घोषित कर दिया। इससे गुस्साए तेज प्रताप ने भी जहानाबाद सीट से अपना उम्मीदवार उतार दिया।

रविवार को जहानाबाद पहुंचे तेज प्रताप यादव ने चंद्र प्रकाश के समर्थन में रैली की। उन्होंने रैली में आरजेडी प्रत्याशी सुरेंद्र यादव पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि ‘जहानाबाद से आरजेडी प्रत्याशी सुरेंद्र यादव लालू के दरबान थे। मेरे पिता के जेल जाने के कारण आरजेडी ने गलत व्यक्ति को टिकट दे दिया। एक ऐसे व्यक्ति को टिकट दिया गया जो चापलूस है।’

tejasvi

तेज प्रताप यादव ने न सिर्फ आरजेडी प्रत्याशी को दरबान और चापलूस बताया बल्कि आरएसएस का एजेंट तक कह डाला। उन्होंने कहा, ‘आरजेडी प्रत्याशी असहलों का तस्कर है। वह एक ऐसा व्यक्ति है जिसके सोच गंदी है। वह आरएसएस का एजेंट है।’

गौरतलब है कि तेज प्रताप यादव ने इससे पहले कहा था कि वो निर्दलीय लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। भाईयों के मतभेद पर उन्होंने कहा कि तेजस्वी दरबारियों से घिरे हुए हैं जो दो दोनों के बीच में दरार पैदा करना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles