जम्मू कश्मीर के करन नगर जिले में CRPF कैंप पर आतंकी हमले के दौरान शहीद हुए जवान मोजाहिद खान की शहादत के अपमान को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव नीतीश सरकार पर भड़क उठे है. उन्होंने राज्य के मंत्री विनोद सिंह के बयान की भी आलोचना की.

उन्होंने सीएम नीतीश कुमार,संघ प्रमुख मोहन भागवत को भी आड़े हाथो लेते हुए कहा कि शहीद जवान का शव एयरपोर्ट पर पहुंचा लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को फुर्सत भी नहीं हुई कि वो एयरपोर्ट पहुंचते. उन्होंने सेना का अपमान करने वाले मंत्री विनोद सिंह को बर्खास्त करने की मांग की.

उन्होंने कहा कि मंत्री विनोद सिंह ने बिहार का नाम डूबाने का काम किया है. प्रभारी मंत्री विनोद सिंह अगर वहां चले जाते तो शहीद के परिवार का सम्मान होता. साथ ही उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार बीजेपी में जाकर इतनी जल्दी संघी हो जाएंगे विश्वास नहीं होता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ध्यान रहे शहीद हुए जवान मोजाहिद खान को न तो केंद्र की मोदी सरकार का कोई मंत्री और नहीं बिहार की नीतीश सरकार का कोई मंत्री सलामी देने पहुंचा. यहाँ तक कि जिले का डीएम और मुखिया तक नहीं आया. इसी के साथ नीतीश सरकार ने शहीद को मुआवजा देने में भी भेदभाव किया. जिसके चलते परिजनों ने मुआवजा लेने से भी इनकार कर दिया.

ये सिलसिला यहीं नहीं रुका. बिहार सरकार में भाजपा कोटे से मंत्री विनोद सिंह ने इस मामले में शर्मनाक बयान देते हुए कहा कि ‘अगर मैं भोजपुर उनके घर चला जाता तो क्या वह जिंदा हो जाते?’ विनोद सिंह ने कहा, ‘कल ही जाकर क्या फायदा होता, मैंने दिल से उनको सैल्यूट किया है और कल ही जाके क्या हम उनको जिंदा कर देते?’

Loading...