भ्रष्टाचार के आरोप से घिरे बिहार के उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव और मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के बीच लम्बी मुलाकात हुई. मुलाक़ात के बाद उन्होंने कहा कि अगर उनकी पार्टी इस्तीफा मांगती है तो वे इस्‍तीफा दे देंगे.

दरअसल मुलाकात के बाद उनसे सवाल किया गया था कि  क्‍या नीतीश के कहने पर वे इस्‍तीफा देंगे? उन्‍होंने कहा कि हमारी पार्टी ने हमको विधायक दल का नेता चुना है. पार्टी जैसा कहेगी वैसा करूंगा. इस मसले पर जनता को सफाई देंगे. उन्‍होंने कहा कि मैं लोगों के बीच जाऊंगा और सारी बात बताऊंगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

45 मिनट तक चली नीतीश के साथ बैठक में तेजस्वी ने अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई पेश की. हालांकि बैठक के बाद क्या फैसला हुआ इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई.

ध्यान रहे लालू परिवार पर सीबीआई छापेमारी के बाद नीतीश कुमार की तेजस्वी के साथ यह पहली बैठक थी. कहा जा रहा है कि तेजप्रताप और तेजस्वी ने कार्यालय जाना छोड़ दिया है और उनके विभागों की महत्वपूर्ण फाइलें उनके घर पर जा रही हैं.