पाकिस्तानी मूल के कनाडाई लेखक तारिक फतह के बयानों को लेकर अब  आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्वास ने भी उनकी आलोचना की हैं. उन्होंने कहा कि बाहरी हो तो उसी तरह रहो, लोगों को उकसाने का काम न करो.

हाल ही में दिल्ली में हुए उर्दू अदब के कार्यक्रम जश्न-ए-रेख्ता में तारिक फतेह का काफी विरोध हुआ था, वे हमेशा ही उर्दू के खिलाफ बयानबाज़ी करते रहते हैं. इसको लेकर कुमार ने कहा कि भारत को अपनी भाषाओं के बारे में संवाद करने की समझ है, उसे वीजा पर आए किसी दूसरे देश के नागरिक से कोई पुष्टि लेने की ज़रूरत नहीं है.

कुमार विश्वास ने आगे कहा कि किसी भी व्यक्ति को अपनी बात कहने की आजादी है, लेकिन वीजा पर आए हुए लोगों को भी यह ध्यान रखना चाहिए कि वे भारत के कानून का ठीक से पालन करें, लोगों को उकसाएं नहीं.

याद रहे तारिक फतेह भारत के एक निजी चैनल ज़ी न्यूज़ पर ‘फतेह का फतवा’ नाम का एक कार्यक्रम होस्ट करते हैं. जिसमे उनपर देश की बहुसंख्यक जनता को मुस्लिम समुदाय के खिलाफ भड़काने, और अल्पसंख्यक समुदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप हैं.

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano