tahsin

tahsin

कांग्रेस नेता शहजाद पूनावाला को कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ बगावत करने की बड़ी सज़ा मिली है. उनके भाई तहसीन पूनावाला ने उनसे रिश्ता तोड़ दिया है. उन्होंने ऐलान किया कि उन्होंने शहजाद पूनावाला से अपने सारे रिश्ते खत्म कर लिये हैं.

दरअसल शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में राहुल गांधी को फायदा पहुंचाने के लिए हेराफेरी का गंभीर आरोप लगाया था. साथ ही सवाल उठाया था कि क्या कांग्रेस में अध्यक्ष पद गांधी परिवार के लिए ही आरक्षित है ? उन्होंने राहुल को चुनौती भी दी कि पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष के पद से इस्तीफा देना चाहिए इसके बाद अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ना चाहिए.

साथ ही उन्होंने राहुल गांधी को एक पत्र लिखकर पूछा है कि, ‘क्या कांग्रेस में अध्यक्ष पद प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सिर्फ ‘गांधी’ नाम वालों के लिए ही रिजर्व है?’ उन्होंने कहा, ‘मेरे जैसा एक कार्यकर्ता राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ने की सोच भी सकता था यदि उन्होंने उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया हुआ होता और एक सामान्य कांग्रेस कार्यकर्ता की तरह पार्टी अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ते.’

इस सबंध में अब तहसीन पूनावाला ने ट्वीट कर लिखा, ‘ मैंने शहजाद पूनावाला को अपने बच्चे की तरह माना है, उसे ऐसा करते हुए देखकर मुझे काफी तकलीफ हो रही है. ये कतई स्वीकार्य नहीं है, हमें कांग्रेस और उसके सहयोगियों को मजबूत करने की जरूरत है. यदि कुछ भी दिक्कतें थी तो उसे उचित फोरम पर उठाया जा सकता था. मैं और मेरी पत्नी खुद को उससे अलग करते हैं.’

तहसीन पूनावाला ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, ‘ मुझे सच में नहीं पता कि शहजाद ने ऐसा क्यों किया, ये काफी आश्चर्यजनक है, उसे इस बारे में परिवार से कुछ भी चर्चा नहीं की. उन्होंने आगे कहा, ‘गंदे कपड़ों को को पब्लिक में धोना गलत है, अब हमें उससे कोई लेना-देना नहीं है, मैं इसे सार्वजनिक रूप से कहता हूं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?