भारतीय सिनेमा के सुपरस्टार रजनीकांत ने साल के आखिरी दिन बड़ा फैसला करते हुए राजनीति पार्टी बनाकर तमिलनाडु का विधानसभा चुनाव लड़ने की घोषणा की है. हालाँकि इस घोषणा के साथ ही उनका विरोध भी शुरू हो गया है.

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने उन्हें अनपढ़ करार देते हुए कहा, जनीकांत ने राजनीति में आने की घोषणा तो कर दी लेकिन उनके पास नई पार्टी बनाने के ना कोई डाक्यूमेंट हैं ना ही कोई विस्तृत अध्ययन. उन्होंने कहा कि रजनीकांत अनपढ़ हैं और ऐसा वह मीडिया की सुर्खियों में बने रहने के लिए कर रहे हैं.

स्वामी ने कहा, तमिलनाडु की जनता इंटेलीजेंट है, वह उनके बहकावे नहीं आएगी.  उन्होंने कहा कि रजनीकांत को पहले राजनीतिक पार्टी के नाम और उनके उम्मीदवारों की घोषणा करने दो, फिर वह उनके कारनामे उजागर करेंगे. वहीँ दूसरी और तमिलनाडु की प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष तमिलिसै सौदरराजन ने एक ट्वीट कर कहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में रजनीकांत बीजेपी को समर्थन देंगे.

ध्यान रहे श्री राघवेंद्र कल्याण मंडपम में फैन्स को संबोधित करते हुए रजनीकांत ने कहा, ‘मेरा राजनीति में आना तय है. मैं अब राजनीति में आ रहा हूं. ये आज की सबसे बड़ी जरूरत है.’ उन्होंने कहा, इस वक्त लोकतंत्र अच्छे स्थिति में नहीं है. दूसरे सभी राज्य हमारा मजाक बना रहे हैं. अगर मैं चुनावी राजनीति में आने का फैसला नहीं लेता हूं तो मुझे ग्लानि होगी. लोकतंत्र के नाम पर नेता हमारा पैसा हमारी ही जमीन पर लूट रहे हैं. हमें जमीन पर बदलाव लाने होंगे. सच्चाई, काम और विकास हमारी पार्टी के तीन मंत्र होंगे.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें