पाकिस्तान स्थित धार्मिक स्थल करतारपुर साहिब गुरुद्वारे को जोड़ने वाले करतारपुर कॉरिडोर की सड़क के शिलान्यास समारोह के बाद भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी का एक विवादित बयान सामने आया है। जिसमे उन्होने करतारपुर कॉरिडोर को खतरनाक करार देते हुए कहा कि इसका दुरूपयोग हो सकता है।

बता दें कि पंजाब के गुरुदासपुर में आज (सोमवार) उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने करतारपुर गलियारे का शिलान्यास किया है। वहीं पाक में बुधवार को इमरान खान इसकी बुनियाद का पत्थर रखेंगे। इस गलियारे से करतारपुर साहिब जाने के लिए वीजा की जरूरत नहीं होगी।

इस पर स्वामी ने कहा, “करतारपुर कॉरिडोर खतरनाक कदम है। यदि यहां हमेशा सही तरीके से जांच नहीं की गई तो इसका दुरूपयोग हो सकता है। सिर्फ पासपोर्ट दिखाना ही काफी नहीं है। आप चांदनी चौक से 250 रुपये में एक पासपोर्ट ले सकते हैं। यहां आने वाले लोगों का छह महीने पहले रजिस्ट्रेशन होना चाहिए। हमें पाकिस्तानियों को यहां आने की इजाजत नहीं देनी चाहिए।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

bjp

इसके अलावा स्वामी ने कहा, सरकार के मंत्रियों का पाक जाकर इस गलियारे के शिलान्यास कार्यक्रम में शिरकत करना बिल्कुल ठीक नहीं है, कम से कम हरसिमरत कौर को तो नहीं जाना चाहिए क्योंकि वो पहले इसके विरोध में थीं।

करतारपुर पाकिस्तान के पंजाब में नरोवाल जिले के शकरगढ़ में स्थित है। सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानकदेव ने अपने जीवन के 18 वर्ष यहां बिताए थे। करतारपुर साहिब गुरुद्वारा पाकिस्तान की सीमा से करीब तीन से चार किमी की दूरी पर रावी नदी के तट पर स्थित है।

Loading...