Wednesday, December 1, 2021

सुषमा पर लगे मुस्लिम तुष्टीकरण के आरोप, ट्रोल होने पर झलका दर्द

- Advertisement -

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ऐसी मंत्री हैं। जिनको अपने काम के लिए पहचाना जाता है। विवादों से दूर रहने वाली सुषमा स्वराज सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा सक्रिय रहती हैं और लोगों की समस्याओं का समाधान करती है।

लेकिन बीते दिनों मुसलमान युवक से शादी करने वाली हिंदू महिला की पासपोर्ट बनवाने में मदद करने के बाद से ही भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज सोशल मीडिया पर निशाने पर है। उन पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाकर उन्हे ट्रोल किया जा रहा है।

ऐसे मे सुषमा के पति स्वराज कौशल ने एक ट्वीट का स्क्रीनशॉर्ट शेयर किया। जिसमे लिखा था कि उन्हे घर आने पर उन्हें सुषमा स्वराज को पीटना चाहिए और बताना चाहिए वे मुस्लिम तुष्टिकरण ना करें। मुस्लिम कभी भाजपा को वोट नहीं देंगे।’

इस ट्वीट के कुछ देर बाद सुषमा नेट्वीट किया, ‘‘दोस्तो : मैंने कुछ ट्वीटों को लाइक किया है. यह पिछले कुछ दिनों से हो रहा है. क्या आप ऐसी ट्वीटों को जायज ठहराते हैं.’’   ट्विट में नीचे हां या नहीं लाइक करने का विकल्प है। 12 घंटे में इस ट्वीट पर लगभग 80 हजार लोग वोट कर चुके हैं। इसमें से 58 प्रतिशत लोगों का मानना है कि ऐसे ट्वीट नहीं होने चाहिए। जबकि आश्चर्यजनक रूप से 42 फीसदी लोग मानते हैं कि ऐसे ट्वीट उन्हें स्वीकार्य हैं।

बता दें कि तन्वी-अनस पासपोर्ट मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को सोशल मीडिया पर लगातार ट्रोल किया जा रहा है. ये मामला उत्तर प्रदेश के लखनऊ के पासपोर्ट ऑफिस का है। तन्वी सेठ नाम की एक महिला ने पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा पर बदसलूकी का आरोप लगाया था। तन्वी सेठ के मुताबिक जब वो अपना आवेदन लेकर विकास मिश्रा के पास गई तो उन्होंने मुस्लिम से शादी करने को लेकर निजी कमेंट किए। तन्वी का आरोप था कि जब उन्होंने इसका विरोध किया तो विकास मिश्रा ने उनके साथ बदसलूकी की। पीएमओ से लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से शिकायत और हंगामे के बाद तन्वी को पासपोर्ट दे दिया गया।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles