Sunday, August 1, 2021

 

 

 

सुप्रीम कोर्ट ने बाबरी ढहाने के आरोपी को बना दिया राम मंदिर ट्रस्ट का अध्यक्ष: ओवैसी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर गठित किए गए राम जन्मभूमि न्यास के मामले में AIMIM पार्टी के सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) का बड़ा बयान आया है। उन्होने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने ऐसे शख्स को ‘राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट’ का अध्यक्ष नियुक्त किया है। जो बाबरी मस्जिद विध्वंस का आरोपी है। उन्होने इसे देश के लिए शर्मनाक बताया।

बता दें कि विश्व हिंदू परिषद (VHP) के उपाध्यक्ष चंपत राय (Champat Rai) को महासचिव नियुक्त किया गया है। ऐसे में ओवैसी ने ट्वीट कर कहा, सुप्रीम कोर्ट ने बाबरी मस्जिद विध्वंस को राष्ट्र के लिए शर्मनाक बताया था। ये नतीजा है। सुप्रीम कोर्ट सरकार द्वारा बनाई गई एक वॉडी तैयार करती है और उसका अध्यक्ष उसको चुनती है जो बाबरी मस्जिद गिराने का आरोपी है। नए भारत में स्वागत है जहां मुजरिमों को ईनाम दिया जाता है।

महंत नृत्य गोपाल दास और चंपत राय सीबीआई द्वारा नामित उन लोगों में शामिल हैं, जो 1992 में बाबरी मस्जिद के विध्वंस से संबंधित आपराधिक षड्यंत्र के मामले में आरोपी थे। वह जमानत पर बाहर हैं और लखनऊ की विशेष अदालत में इस मामले की सुनवाई चल रही है।

इससे पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रमुख शरद पवार ने बीजेपी पर मुस्लिमों के तुष्टीकरण का आरोप लगाते हुए कहा कि जब अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Mandir) के लिए ट्रस्ट बनाया जा सकता है तो मस्जिद के लिए क्यों नहीं?

उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बनाने के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट बनाया गया है लेकिन, मस्जिद के लिए कोई ट्रस्ट नहीं बनाया गया, जबकि अयोध्या में बाबरी मस्जिद को गिराया गया था। पवार ने मस्जिद बनाने के लिए सरकार से ट्रस्ट बनाकर मदद देने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles