Thursday, October 28, 2021

 

 

 

सुब्रमण्यम स्वामी बोले – राम मंदिर निर्माण में मोदी का नहीं कोई योगदान, राजीव गांधी बनते अगर दोबारा पीएम तो…

- Advertisement -
- Advertisement -

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 5 अगस्त को रामलला मंदिर के शिलान्यास करने वाले है। इससे पहले बीजेपी के विवादित नेता सुब्रमण्यम स्वामी का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होने कहा कि राम मंदिर निर्माण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कोई योगदान नहीं है।

एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में स्वामी ने कहा, “राम मंदिर में प्रधानमंत्री का कोई योगदान नहीं है। सारी बहस हमने की। जहां तक मैं जानता हूं सरकार की तरफ से उन्होंने ऐसा कोई काम नहीं किया है, जिसके बारे में कह सकें कि उसकी वजह से निर्णय आया है।”

दरअसल, उनसे सवाल किया गया था कि राम मंदिर भूमि पूजन में और किन-किन लोगों को बुलाया जाना चाहिए था, जिन्हें नहीं बुलाया गया है। इस सवाल के जवाब में उन्होने ये बात कहीं। स्वामी ने कहा कि ‘जिन लोगों ने काम किया उनमें राजीव गांधी, पीवी नरसिम्हा राव और अशोक सिंहल का नाम शामिल है।

इसके साथ ही स्वामी ने ये भी कहा कि वाजपेयी ने भी इसमें अड़ंगा अड़ाया था। अशोक सिंहल ने उन्हें ये बात बतायी थी।’ भाजपा सांसद ने कहा कि राम सेतु को राष्ट्रीय धरोहर घोषित करने के लिए फाइल प्रधानमंत्री की टेबल पर पिछले 5 साल से पड़ी है लेकिन उन्होंने अभी तक इस पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं।

स्वामी ने कहा कि मैं कोर्ट जाकर आदेश दिलवा सकता हूं लेकिन मुझे बुरा लगता है कि हमारी पार्टी होने के बावजूद भी हमें कोर्ट जाना होता है। इससे पहले स्वामी ने अपने एक बयान में कहा था कि राजीव गांधी अगर दोबारा पीएम बनते तो अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो चुका होता।

उन्होने बताया, राजीव गांधी ने विवादित स्थल का ताला खुलवा दिया था और राम मंदिर के लिए शिलान्यास कार्यक्रम की अनुमति भी दे दी थी लेकिन उनके असामयिक निधन से चीजें बदल गईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles