Monday, September 27, 2021

 

 

 

वाजपेयी के अंग्रेजों के हाथों स्वतंत्रता सेनानियों को गिरफ्तार कराने के मेरे पास पुख्ता सबूत: राशिद अल्वी

- Advertisement -
- Advertisement -

काँग्रेस नेता राशिद अल्वी ने बीजेपी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि उनके पास पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा देश के स्वतंत्रता सेनानियों को अंग्रेजों के हाथों गिरफ्तार कराने के मेरे पास पुख्ता सबूत है।

अल्वी ने दावा किया कि 1942 में जब देश में भारत छोड़ो आंदोलन चल रहा था तब, अटल बिहारी वाजपेई ने शपथ पत्र देकर दो स्वतंत्रता सेनानियों की शिनाख्त की थी। जिसके बाद अंग्रेजों के द्वारा उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था।अगर बीजेपी इतिहास की बात करती है तो पहले अपने नेताओं (के देशद्रोह) के इतिहास को देखे। मेरे पास इस एफिडेविट की कॉपी मौजूद है, जिसे मैंने राज्यसभा में भी रखा था।

उन्होने पूर्व राजीव गांधी पर पीएम मोदी की आलोचना करते हुए कहा कि उनकी जान को खतरा था इसलिए राजीव गांधी साथ सेना थी। देश के लिए शहीद हुए, राजीव गांधी की सुरक्षा को खतरा था। अपने प्रधान मंत्री को सुरक्षा देना सेना की जिम्मेवारी है, ऐसे शहीद इंसान पर राजनीति करना बंद कर दें।

इसी बीच पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर एक और सनसनीखेज आरोप लगाया। राम लीला मैदान में एक बड़ी जनसभा में मोदी ने आरोप लगाया कि राजीव गांधी ने प्रधानमंत्री रहते हुए आईएनएस विराट का इस्तेमाल एक द्वीप पर परिवार के साथ छुट्टी मनाने के लिए किया था। मोदी ने दावा किया कि इसमें इटली से आए उनके रिश्तेदार भी शामिल हुए थे और आईएनएस विराट का इस्तेमाल टैक्सी की तरह किया गया था।

पीएम मोदी यहीं नहीं रुके। उन्होंने बोफोर्स से लेकर अगुस्ता डील में भ्रष्टाचार का सवाल फिर उठा दिया। मोदी ने कहा, “क्वात्रोची मामा दाम फिक्स करता था। अगुस्ता हेलीकाप्टर वाला मिचेल मामा का स्वागत होता था। भोपाल के विनाशकारी एंडरसन को विदेश भगाया गया। आजकल वहां (जनपथ में) वकीलों का आना-जाना लगा रहता है। “

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles